सीआईए प्रमुख का ईमेल हैक

सीआईए के प्रमुख जॉन ब्रेन्नन इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी अधिकारी उन ख़बरों की जांच कर रहे हैं जिनमें कहा गया है कि हाई स्कूल के एक छात्र ने खुफिया एजेंसी सीआईए के प्रमुख जॉन ब्रेन्नन के निजी ईमेल को हैक कर लिया है.

इस कथित हैकर ने अख़बार 'न्यूयार्क पोस्ट' से कहा कि उन्हें ब्रेन्नन के अकाऊंट में काम से जुड़ी कुछ फ़ाइलें मिली हैं.

सीआईए का कहना है कि मामले की जांच चल रही है. लेकिन उन्होंने इसकी पुष्टि नहीं की कि ईमेल हैक हुआ है या नहीं.

ईमेल हैक करने का दावा करने वाले किशोर की पहचान अभी सार्वजनिक नहीं हुई है.

'न्यूयार्क पोस्ट' अख़बार ने किशोर की पहचान हाई स्कूल के एक छात्र के रूप में दी है, जो अमरीकी विदेश नीतियों से नाराज़ था.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

छात्र के ट्विटर अकाऊंट में फ़ाइलों का लिंक दिया हुआ है. इनके बारे में किशोर का दावा है कि इसमें ब्रेन्नन के संपर्कों की सूची, सीआईए के एक पूर्व निदेशक की ओर से किए गए टेलीफ़ोन कॉल की सूची और अन्य कागज़ात हैं.

किशोर के एक ट्विट में जॉन ब्रेन्नन के टेलीफ़ोन नंबर, ईमेल पते और सामाजिक सुरक्षा नंबर दिए हुए हैं.

सीआईए ने एक बयान में कहा है, ''हमें सोशल मीडिया में आई ख़बरों की जानकारी है. इस मामले को संबंधित अधिकारियों को भेज दिया गया है.''

इमेज कॉपीरइट Reuters

किशोर का दावा है कि उसने होमलैंड सिक्योरिटी सेक्रेट्री जेह जॉनसन के एक ईमेल अकाऊंट में भी सेंध लगाई है.

पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के निजी ईमेल के इस्तेमाल के बाद अमरीकी अधिकारियों द्वारा निजी ईमेल का इस्तेमाल अमरीका में चर्चा का विषय बन गया है.

पिछले साल अक्तूबर में रूसी हैकर्स ने व्हाइट हाउस के कम्प्यूटर्स से राष्ट्रपति बराक ओबामा के ईमेल हैक कर लिए थे. अधिकारियों का कहना था कि हैकरों ने इन ईमेलों से संवेदनशील जानकारी निकाल ली थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार