यरुशलम में शांति के लिए इसराइल-जॉर्डन में समझौता

जॉन कैरी, महमूद अब्बास इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अमरीकी विदेश मंत्री जॉन कैरी ने फ़लस्तीनी नेता महमूद अब्बास से जॉर्डन में मुलाक़ात की.

अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी का कहना है कि यरुशलम में पवित्र जगह के मुद्दे पर तनाव कम करने की दिशा में क़दम उठाने के लिए इसराइल और जॉर्डन में सहमति बन गई है.

इनमें पवित्र जगह की 24 घंटे वीडियो निगरानी जैसे कई उपाए शामिल हैं. इसमें पवित्र स्थल के संरक्षण में जॉर्डन की ऐतिहासिक भूमिका पर इसराइली समझौते को भी दोहराया गया है.

यरुशलम में पवित्र जगह से जुड़े कुछ मुद्दों को लेकर इसराइलियों और फ़लस्तीनियों के बीच बीते लगभग एक महीने में हिंसा की कई घटनाएं हुई हैं.

यरुशलम की पवित्र जगह, यहूदियों में टेम्पल माउंट और मुसलमानों में हरम अल शरीफ़ के तौर पर श्रद्धा का केंद्र है.

जॉर्डन में अमरीकी विदेश मंत्री ने कहा कि इसराइल ने पवित्र स्थल के मौजूदा नियमों को पहले की तरह जारी रखने का वादा दोहराया है.

इमेज कॉपीरइट Israel Military Spokesman

यरुशलम में इसराइलियों और फ़लस्तीनियों के बीच हिंसा की शुरुआत पिछले महीने तब हुई थी जब पवित्र स्थल के प्रबंधन संबंधी नियमों में यहूदियों को अधिक तरजीह देने की अफ़वाहें उड़ी थीं.

इसराइल कहना है कि उसने माउंट टेम्पल की मौजूदा व्यवस्था में किसी तरह के बदलाव की बात नहीं की है.

दोनों पक्षों के बीच हिंसा की हालिया घटनाओं में लगभग 50 फ़लस्तीनी मारे गए हैं.

हिंसा में कम से कम आठ फ़लस्तीनी भी मारे गए और कई अन्य जख़्मी हुए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार