तुर्की में आजकल 'अर्दवान समय'

एपल वॉच इमेज कॉपीरइट Apple.com

तुर्की में अभी कितना बजा होगा? यह सवाल आपको हैरान कर सकता है.

पर तुर्की के लोग तो इस सवाल से परेशान हैं.

दरअसल, हर साल इस समय तुर्की में घड़ी की सूइयों की स्थिति को बदल कर समय को एक घंटा पीछे कर दिया जाता है.

पर राष्ट्रपति तैयप अर्दवान ने अगले रविवार को होने वाले चुनाव तक इस फ़ैसले को टाल दिया है. उनका मक़सद मतदाताओं को ज़्यादा समय देना है.

इमेज कॉपीरइट Hurriyet.com.tr
Image caption रीचेप तैयप अर्दवान, तुर्की के राष्ट्रपति

पर इलेक्ट्रॉनिक घड़ियां बनाने वालों ने सरकार के इस फ़ैसले की ओर ध्यान नहीं दिया और इससे असमंजस की स्थिति पैदा हो गई है.

अजीब स्थिति ये है कि तुर्की में एक ही समय, एक ही जगह पर, अलग-अलग घड़ियां दो अलग समय बता रही हैं.

तुर्की के लोग सोशल मीडिया पर कह रहे हैं कि यह तो 'अर्दवान समय' है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार