सीरिया पर बातचीत में ईरान को न्योता संभव

सीरिया में प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट AFP

अमरीका का कहना है कि सीरिया संघर्ष को लेकर अमरीका और रूस की बातचीत में ईरान को भी आमंत्रित किया जा सकता है.

ये बातचीत गुरुवार से विएना में होगी.

इसमें अमरीका और रूस के अलावा यूरोप और अरब देशों के आला प्रतिनिधि शामिल होंगे.

अमरीकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने कहा कि ये साफ नहीं कि है कि ईरान इस बातचीत में शरीक होगा या नहीं.

उन्होंने कहा, " हमारे लिए ये जरूरी है कि अहम साझेदार बातचीत में शामिल रहें. वे (ईरान) एक अहम साझेदार हो सकते हैं लेकिन अभी ऐसा नहीं हैं."

किर्बी ने कहा कि ईरान बातचीत में हिस्सा लेता है या नहीं ये उस पर ही निर्भर करेगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

ईरान सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद का करीबी सहयोगी है.

ये माना जाता है कि बीते चार सालों में ईरान ने असद सरकार की मदद के लिए अरबों डॉलर खर्च किए हैं और सैन्य सहायता, हथियार और तेल मुहैया कराया है.

ईरान की सरकार बहुदलीय और निष्पक्ष चुनाव के जरिए सीरिया में शांतिपूर्ण परिवर्तन की पक्षधर रही है लेकिन वो बहुपक्षीय शांतिवार्ता में शामिल नहीं है.

अमरीका के खाड़ी और अरब देशों के सहयोगी लंबे वक्त से ईरान की भूमिका का विरोध करते रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार