रूसी विमान पर सवार सभी 224 की मौत

रूस इमेज कॉपीरइट epa
Image caption अपने परिजनों की खबर का इंतज़ार करते लोग

मिस्र के एक अधिकारी ने कहा है कि दुर्घटनाग्रस्त रूसी विमान पर सवार सभी 224 लोगों की मौत हो गई है.

ये यात्री विमान मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप में शनिवार को हादसे का शिकार हो गया था.

इस्लामिक स्टेट से जुड़े संगठन ने एक बयान जारी कर विमान गिराने का दावा किया है.

रूस के यातायात मंत्री मैक्सिम सोकोलोफ़ ने इन दावों का खंडन करते हुए कहा है कि 'विमान जेहादियों की दाग़ी मिसाइल से नहीं गिरा हो सकता है.'

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने इस क्रैश की आधिकारिक जांच और बचाव दलों को स्थल पर भेजने के आदेश दिए हैं.

इमेज कॉपीरइट epa

ख़बरों के अनुसार विमान में 200 से अधिक लोग सवार थे. हादसे का शिकार हुए एयरबस ए-321 ने शर्म-अल-शेख से रूस के सेंट पीटर्सबर्ग के लिए उड़ान भरी थी.

रूस की नागरिक उड्डयन एजेंसी रोसावियत्सिया ने एक बयान में बताया कि विमान ने सुबह छह बजकर 51 मिनट (मॉस्को समयानुसार) पर उड़ान भरी थी और इसे 12 बजकर 10 मिनट पर सेंट पीटर्सबर्ग के पुलकोवो हवाई अड्डे पर उतरना था.

फ्लाइट KGL9268 31 हज़ार फीट की ऊंचाई पर थी जब इससे संपर्क टूट गया.

एजेंसी ने कहा कि विमान साइप्रस के एयर ट्रैफ़िक कंट्रोल से संपर्क स्थापित नहीं कर पाया और रडार से लापता हो गया.

इमेज कॉपीरइट Reuters

मिस्र के प्रधानमंत्री शरीफ़ इस्माइल ने भी इस संकटपूर्ण स्थिति से निपटने के लिए एक समिति के गठन की घोषणा की है जबकि रूस के परिवहन मंत्री की अगुआई में एक आयोग रूस से मिस्र के लिए जल्द ही रवाना होगा.

रूस की समाचार एजेंसी रिया के अनुसार, जिस एयरलाइन्स का ये विमान था, कोगलिमाविया नाम की इस एयरलाइन पर भी एक आपराधिक केस शुरू कर दिया गया था.

कुछ ख़बरों में कहा गया था कि विमान साइप्रस के ऊपर से गुज़रते हुए लापता हुआ.

बताया जा रहा है कि विमान में सवार अधिकांश यात्री रूस के पर्यटक थे.

विमान रूसी एयरलाइंस कोगालीमाविया का था. स्थानीय ख़बरों के अनुसार विमान में 217 यात्री और चालक दल के सात सदस्य सवार थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)