आईएस के ख़िलाफ़ फ्रांस ने उतारा सबसे बड़ा युद्धपोत

  • 6 नवंबर 2015
इमेज कॉपीरइट AFP

फ्रांस सीरिया और इराक़ में इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ लड़ाई में अपने सबसे बड़े युद्धपोत 'शार्ल द गॉल' को भेज रहा है.

इस युद्धपोत के ज़रिए उन फ्रांसीसी विमानों को अपने मिशन में कम समय लगेगा जो इस्लामिक स्टेट के ठिकानों पर हवाई हमले कर रहे हैं.

अमरीका के नेतृत्व वाले गठबंधन के तहत फ्रांस सितंबर 2014 से इराक़ में आईएस को निशाना बना रहा है. उसने इस साल सितंबर में सीरिया में भी हवाई हमले किए हैं.

विमानवाहक युद्धपोत शार्ल द गॉल युद्धपोत को पहले भी आईएस के ख़िलाफ़ तैनात किया जा चुका है.

इसे फ़रवरी से अप्रैल तक खाड़ी में फ्रांसीसी लड़ाकू विमानों के लिए बेस के तौर पर इस्तेमाल किया गया था.

फ्रांस इस समय आईएस को निशाना बनाने के लिए जॉर्डन में तैनात अपने छह मिराज युद्धक विमानों और यूएई में तैनात छह रफाएल विमानों को इस्तेमाल कर रहा है.

इमेज कॉपीरइट AFP

शार्ल द गॉल युद्धपोत 40 विमानों को संभाल सकता है और उससे हर रोज़ 100 उड़ानें भरी जा सकती हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार