रूसी कार्रवाई से बढ़ रहे हैं शरणार्थी: ईयू

इमेज कॉपीरइट AP

यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने कहा है कि सीरिया में रूस की सैन्य कार्रवाई से यूरोप आने की कोशिश करने वाले शरणार्थियों की संख्या बढ़ रही है.

तुर्की में जी20 देशों के शिखर सम्मेलन में टस्क ने कहा कि रूस को इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ क़दम उठाने पर और अधिक ध्यान केंद्रित करना चाहिए, न कि सीरियाई उदारवादी विपक्ष को निशाना बनाने पर.

वहीं रूस कहता रहा है कि वो इस्लामिक स्टेट को निशाना बना रहा है.

लेकिन पश्चिमी जगत में बहुत से लोगों को आशंका है कि रूस का मुख्य उद्देश्य अपने सहयोगी सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद को सत्ता में बनाए रखना है.

जी20 सम्मेलन में विश्व नेताओं का मुख्य एजेंडा आर्थिक मामले हैं, लेकिन अनाताल्या में हो रही दो दिन की इस बैठक पर पेरिस में हुए हालिया हमलों की छाया साफ तौर पर देखी जा सकती है.

पेरिस में शुक्रवार को हुए हमलों में 129 लोग मारे गए. इस्लामिक स्टेट ने इन हमलों की ज़िम्मेदारी ली है.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption टस्क ने सीरिया में अमरीका और रूस के बीच सहयोग पर ज़ोर दिया है

टस्क ने कहा कि सीरिया में आईएस के ख़िलाफ़ कार्रवाई में अमरीका और रूस के बीच सहयोग बहुत अहम है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)