पेरिस: जांच 27 वर्षीय 'मास्टरमाइंड' पर केंद्रित हुई

पेरिस पर हमला

पेरिस हमलों की जांच मोरक्को मूल के बेल्जियन नागरिक 27 वर्षीय अब्देलहमीद अबौद पर केंद्रित हो रही है.

फ़ांस की सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि अब्देलहमीद पेेरिस हमलों का मास्टरमाइंड हो सकता है

अब्देलहमीद ब्रसेल्स के उसी इलाक़े में रहता था जहां दो और हमलावर रहते थे. सुरक्षा अधिकारियों का मानना है कि अब वो सीरिया में इस्लामी चरमपंथी संगठन आईएस के साथ हो सकता है.

शुक्रवार को पेरिस में हुए आत्मघाती हमलों और धमाकों में 129 लोग मारे गए और 350 से अधिक घायल हो गए.

फ़्रांसीसी जांचकर्ताओं ने दो और आत्मघाती हमलावरों की पहचान कर ली है. उनमें से एक सामी अमीमूर फ़्रांसीसी नागरिक था और सुरक्षा एंजेसियों की निगरानी में था.

28 वर्षीय सामी अमीमूर की 2012 में एक कथित आतंकवादी साज़िश के सिलसिले में जांच-पड़ताल की गई थी.

इमेज कॉपीरइट Greek government
Image caption अहमद अल मोहम्मद का पासपोर्ट उसके शव के पास मिला था.

माना जा रहा है कि दूसरा हमलावर अहमद अल मोहम्मद है जिसने ख़ुद को उड़ा लिया था.

पुलिस के मुताबिक अहमद अल मोहम्मद का पासपोर्ट उसके शरीर के पास मिला था. माना जा रहा है कि वह सीरिया में 1990 में पैदा हुआ था.

अभी तक कुल पाँच हमलावरों की पहचान की जा चुकी है.

इमेज कॉपीरइट Getty

एक अन्य संदिग्ध सालाह अब्देसलाम को पकड़ने के लिए अंतरराष्ट्रीय अभियान चलाया जा रहा है.

ब्रसेल्स में पैदा हुए अब्देसलाम फ़्रांसीसी नागरिक हैं. उनका एक और भाई ब्राहीम अब्देसलाम बाटाक्लान पर हमला करने वाले आत्मघाती हमलावरों में शामिल था.

अब्देसलाम बेल्जियम के मोलेनबीक इलाक़े में रहते थे. रिपोर्टों के मुताबिक हमलों के बाद अधिकारियों ने उन्हें पूछताछ के लिए रोका लेकिन बाद में जाने दिया.

शनिवार को हिरासत में लिए गए उनके एक और भाई मोहम्मद अब्देसलाम को रिहा कर दिया गया है.

Image caption बेल्जियम पुलिस ने मोलानबीक इलाक़े में छापेमारी की है.

फ़्रांसीसी पुलिस ने पेरिस में हुए हमलों के बाद से देशभर में 168 ठिकानों पर छापे मारे हैं.

संदिग्ध इस्लामी चरमपंथियों पर छापेमारी की कार्रवाई में 24 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है और दर्जनों हथियार बरामद किए गए हैं.

फ़्रांस के गृह मंत्री बर्नर्ड केज़ेनेओ के मुताबिक़ 104 लोगों को घर पर नज़रबंद किया गया है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

फ़्रांसीसी सरकार का कहना है कि आपातकाल का इस्तेमाल जिहादी आंदोलनों से संबंधित रहे लोगों से पूछताछ करने के लिए किया जा रहा है.

केज़ेनेओ का कहना है कि पेरिस हमलों पर फ़्रांस की प्रतिक्रिया ठोस और समग्र होगी.

अब जाँचकर्ताओं के अनुसार हमलों की योजना बेल्जियम में बनाई गई और इन्हें फ़्रांस में रह रहे लोगों का सहयोग प्राप्त था.

इमेज कॉपीरइट Getty

इससे पहले फ़्रांस के प्रधानमंत्री मैनुअल वाल्स ने कहा था कि पेरिस पर हमलों की साज़िश सीरिया में रची गई. उन्होंने ये भी कहा कि जाँच एजेंसियों को अंदेशा है कि फ़्रांस और और अन्य यूरोपीय देशों में और हमले करने की योजना बनाई जा रही है.

उधर फ़्रांसीसी लड़ाकू विमानों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के गढ़ रक़्क़ा पर हवाई हमले किए हैं.

पेरिस पर हुए हमलों की ज़िम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार