फ़्रांस ने आईएस के ख़िलाफ़ सैन्य अभियान में मदद मांगी

पेरिस में सुरक्षा बल इमेज कॉपीरइट Reuters

शुक्रवार को पेरिस में हुए चरमपंथी हमले के बाद फ़्रांस ने सुरक्षा के लिए एक लाख 15 हज़ार सुरक्षाकर्मी तैनात किए हैं.

गृह मंत्री बर्नर्ड केज़ेनाओ ने कहा, "हमने समूचे देश में 115,000 पुलिसकर्मी, विशेष सुरक्षा बल और सैन्यबल तैनात किए हैं ताक़ि फ़्रांस के लोगों की सुरक्षा पुख़्ता की जा सके."

केज़ेनाओ के मुताबिक संदिग्ध चरमपंथियों पर 128 और छापे मारे गए हैं.

फ़्रांस ने यूरोपीय संघ की संधि के अब तक कभी न इस्तेमाल हुई प्रावधान का प्रयोग किया है. उसने यूरोपीय संघ के अन्य देशों से इस्लामी चरमपंथी संगठन आईएस के खिलाफ़ सैन्य मदद में सहयोग मांगा है. सभी देश इस पर राज़ी हो गए हैं.

गृह मंत्री बर्नर्ड केज़ेनाओ ने कहा है कि देश की सुरक्षा का बजट भी बढ़ाया जाएगा. बीती रात फ़्रांसीसी विमानों ने सीरिया में इस्लामिक स्टेट के ठिकानों पर बमबारी भी की है.

इमेज कॉपीरइट Belgian Interior Ministry
Image caption मुख्य संदिग्ध सालेह अब्देसलाम की नई तस्वीरें जारी की गई हैं.

इस्लामिक स्टेट ने पेरिस हमलों की ज़िम्मेदारी ली थी है जिनमें 129 लोग मारे गए थे. फ़्रांस के राष्ट्रपति फ़्रांस्वा ओलांद ने सोमवार को कहा था कि फ़्रांस युद्ध की स्थिति में है और वह इस्लामिक स्टेट को तबाह कर देगा.

मुख्य अभियुक्त माने जा रहे सालेह अब्देसलाम को पकड़ने के लिए व्यापक खोज अभियान चलाया जा रहा है.

माना जा रहा है कि हमलों के बाद वो बेल्जियम में हो सकता है. बेल्जियम की पुलिस ने वांछित अब्देसलाम की तस्वीरें भी जारी की हैं.

अब्देसलाम की फ़रार होने के कारण बेल्जियम की सरकार ने चरमपंथी हमले के ख़तरे का स्तर बढ़ा दिया है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी फ़्रांस पहुँचे हैं.

मंगलवार को बेल्जियम की राष्ट्रीय टीम और स्पेन के बीच होने वाला फ़ुटबॉल मैच भी रद्द कर दिया गया.

फ़्रांसीसी मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक पुलिस ने पेरिस के बाहरी इलाक़े में एक घर खोजा है जिसका इस्तेमाल हमलावरों ने किया था.

इसी बीच फ़्रांस ने यूरोपीय संघ के अब तक इस्तेमाल न किए गए एक प्रावधान का इस्तेमाल करते हुए संघ के सभी देशों से हर मुमकिन सहयोग मांगा है.

इमेज कॉपीरइट Getty

यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रमुख फ़ेडेरिका मोघेरिनी ने बताया कि सभी 28 सदस्य देशों ने हर संभव मदद के लिए सहमति दी है.

अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने पेरिस पहुँचकर राष्ट्रपति फ़्रांस्वा ओलांद के साथ वार्ता के बाद कहा- 'हमें उनके गढ़ में हमले करने के लिए और क़दम उठाने होंगे और सीमा सुरक्षा बेहतर करनी होगी.'

राष्ट्रपति ओलांद अगले सप्ताह वाशिंगटन और मास्को जाएंगे और अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से वार्ता करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार