फिरौती न मिलने पर आईएस ने 'दो बंधकों को मारा'

इस्लामिक स्टेट इमेज कॉपीरइट AP

चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने दावा किया है कि उसने दो और विदेशी बंधकों की हत्या कर दी है.

बताया जाता है कि इनमें से एक बंधक नॉर्वे का था जबकि दूसरा चीन का.

इस्लामिक स्टेट के मुताबिक नॉर्वे और चीन की सरकारों ने बंधकों की एवज में फ़िरौती की रकम नहीं दी जिसके बाद उनकी हत्या कर दी गई.

हालांकि बीबीसी अभी तक आईएस के इस दावे की स्वतंत्र रूप से पुष्टि नहीं कर पाया है.

आईएस ने सबूत के तौर पर इन दोनों बंधकों की तस्वीरें जारी की हैं जिनमें से एक तस्वीर में ये जीवित दिख रहे हैं और दूसरी फोटो में इनके शव नज़र आ रहे हैं.

तस्वीरों से संकेत मिल रहे हैं कि इन्हें गोली मारी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)