सीरिया में आईएस पर शिकंजा कसने की तैयारी

  • 26 नवंबर 2015
डेविड कैमरन इमेज कॉपीरइट z

सीरिया और इराक़ में सक्रिय चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट पर चौतरफ़ा शिकंजा कसने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गतिविधियां तेज़ होती जा रही हैं.

सीरिया में हवाई हमले के लिए ब्रितानी सासंदों की मंज़ूरी के लिए अपना पक्ष रख रहे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा, "हमें अभी चरमपंथियों पर उनके गढ़ में हमला करना होगा. ब्रिटेन अभी आईएस के निशाने पर है और इस चुनौती से निपटने के लिए कार्रवाई ज़रूरी है."

डेविड कैमरन ने सासंदों से इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ सैनिक कार्रवाई की व्यापक रणनीति का समर्थन करने की अपील की है.

इमेज कॉपीरइट AFP

सीरिया में ब्रिटेन के हस्तक्षेप पर वहां की निचली सदन हाउस ऑफ़ कॉमन में आने वाले हफ़्तों में वोटिंग हो सकती है.

ब्रितानी सासंदों ने 2013 में सीरिया में हस्तक्षेप को मंज़ूरी नहीं दी थी हालांकि इराक़ में आईएस के ख़िलाफ़ कार्रवाई को मंज़ूरी दी गई थी.

इमेज कॉपीरइट RIA Novosti

  वहीं आईएस के ख़िलाफ़ कार्रवाई को लेकर चर्चा के लिए रूस के दौरे पर गए फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलेंगे.

आईएस ने पेरिस हमलों और मिस्र में रूसी विमान गिराने की ज़िम्मेदारी ली थी जिसके बाद फ्रांस और रूस ने आईएस को मिटाने के लिए कड़ा रुख़ अपना लिया है.

सीरिया में कार्रवाई में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समन्वय की बात की जा रही है लेकिन सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद के भविष्य और किन गुटों को हमलों का निशाना बनाया जाए इस पर मतभेद बने हुए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार