तुर्की के ख़िलाफ रूस की पाबंदियां

  • 29 नवंबर 2015
इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन

रूस ने अपना लड़ाकू विमान गिराए जाने के जवाब में तुर्की के ख़िलाफ कई पाबंदियों की घोषणा की है.

रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन ने कई आदेशों पर दस्तख़त किए.

इनके अनुसार तुर्की से सभी आयातों पर पाबंदी, रूस में किसी तुर्क कंपनी पर प्रतिबंध और किसी भी रूसी कंपनी में तुर्की के नागरिक के काम पर रोक शामिल हैं.

साथ ही इन दोनों देशों के बीच चार्टर्ड उड़ानों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption तुर्की के राष्ट्रपति रचैप तैय्यप एर्दोआन

पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कॉफ़ ने शनिवार को एक बयान में कहा कि रूस में क़रीब 90 हज़ार तुर्क नागरिक काम कर रहे हैं और अगर इनके परिवार के सदस्यों को भी जोड़ लिया जाए तो यह संख्या दो लाख के क़रीब है.

इससे पहले रूस ने शुक्रवार को तुर्की के साथ वीज़ा मुक्त व्यवस्था को भी रद्द कर दिया था.

तुर्की के राष्ट्रपति रचैप तैय्यप एर्दोआन ने इस मामले में माफी मांगने से तो इंकार कर दिया लेकिन कहा कि उन्हें इस हादसे पर अफ़सोस है और भविष्य में ऐसा नहीं होगा.

हालांकि इन प्रतिबंधों का असर रूस पर भी पड़ेगा. सप्ताह की शुरुआत में ही रूस के कृषि मंत्री ने कहा था कि तुर्की से आने वाला क़रीब 15 प्रतिशत सामान अभी तक नहीं पहुंचा है जिससे लोगों को मुश्किल हो रही है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार