न्यूयॉर्क, टोक्यो को टक्कर देता एशियाई शहर

  • 3 दिसंबर 2015
इमेज कॉपीरइट Getty

दक्षिण कोरिया में 'पाली पाली' का मतलब है - जल्दी-जल्दी, जो सियोल की जीवनशैली का हिस्सा बन चुका है.

दक्षिण कोरिया की राजधानी में ज़िंदगी की रफ़्तार दुनिया के सबसे व्यस्त शहरों से कमतर नहीं. यहां के लोगों को ख़ूब मेहनत-सर्विस करने और कैसे भी काम पूरा करने की आदत हो गई है.

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी से दो साल पहले यहां आई रुचिका सहाय बताती हैं, "यह ऊर्जा से भरा शहर है. मैं न्यूयॉर्क और टोक्यो में रह चुकी हूं लेकिन सियोल इनसे ज़्यादा उत्साहपूर्ण शहर है."

इमेज कॉपीरइट Getty

सियोल में दफ़्तरों में काम 10 बजे रात तक होता है पर इससे क़रीब एक करोड़ की आबादी वाले शहर के क़दम लड़खड़ाते नहीं.

स्थानीय लोग व्यस्त भले हों, लेकिन उनका व्यवहार दोस्ताना है. वे खुले दिल के हैं और दूसरों की मदद के लिए तैयार रहते हैं. सहाय बताती हैं, "सियोल के लोग ख़ुद को पूर्व के इटालियन बताते हैं और इस पर गर्व भी करते हैं. ये लोग ख़ूब बहस करते हैं और खासे दोस्ताना हैं. ये अपनी भावनाओं का इज़हार करने से भी कतराते नहीं."

लोगों में सकारात्मक ऊर्जा भी है. यही वजह है वे संगीत, तकनीक और फ़ैशन की दुनिया में अच्छा कर रहे हैं. सियोल इसी वजह से दुनिया की सबसे मज़बूत अर्थव्यवस्था वाले शहरों में आता है.

इमेज कॉपीरइट Getty

सियोल की कूकमिन यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में शामिल होने वाली अमरीकी छात्रा टेलर इवांस कहती हैं, "दक्षिण कोरियाई कुछ बड़ा करने की दिशा में काम करते रहते हैं. छोटे कारोबारियों को ही लें, जो ग्राहकों के लिए बेहद रचनात्मक आउटलेट तैयार कर रहे हैं."

एक कैफे़ में आप पॉपुलर टीवी शोज़ देख सकते हैं और हेयर स्टूडियो में बेहतरीन चाय का शौक पूरा कर सकते हैं. इवांस कहती हैं, "सियोल में कारोबारी हर दिन नए आइडिया पर काम करते मिलते हैं."

सहाय के मुताबिक़ सियोल में दो तरह के लोग हैं. एक वो जो अपने देश जैसी सहूलियत चाहते हैं, जबकि दूसरे स्थानीय जीवनशैली का लुत्फ़ उठाना चाहते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

सहाय शहर के उत्तर-पश्चिमी इलाक़े सियांगबक डूंग में रहती हैं. यह सांस्कृतिक इलाक़ा है. आर्ट गैलरी और बुटीक के अलावा यहां परंपरागत कोरियाई आर्किटेक्चर से बने घर नज़र आते हैं. पश्चिम में बसे यूनहुई डोंग इंटरनेशनल स्कूल के पास बहुत से फ्रेंच बोलने वाले परिवार बसे हैं और वहाँ एक फ्रेंच स्कूल भी है.

इवांस हैपजियांग इलाक़े को तरजीह देती हैं. यह हेन नदी के किनारे बसा पश्चिमी इलाक़ा है. यहां काफ़ी कला प्रेमी और यूनिवर्सिटी छात्र और शिक्षक रहते हैं और ये अपेक्षाकृत शांत जगह है.

टेलर कहती हैं, "यह काफ़ी शानदार इलाक़ा है. ख़ास है और यहां ऐसे कैफ़े और स्टोर मिलेंगे जो आपको पूरे सियोल में कहीं नहीं मिलेंगे."

इमेज कॉपीरइट Getty

ज़्यादातर स्थानीय लोग ऊंची इमारतों में बने अपार्टमेंट्स में रहते हैं. फ़्लैट में रहना अपेक्षाकृत सस्ता है क्योंकि अपार्टमेंट्स में डॉक्टर, दंत चिकित्सकों ग्रोसरी की दुकानें और सैलून सब होते हैं.

हालांकि इटावून, सियोंगबकडंग, यूनहुई डोंगे और बेंगबे इलाके के लोग घरों को तरजीह देते हैं.

सियोल का इंचियान इंटरनेशनल एयरपोर्ट दूसरी एशियाई राजधानी से जुड़ा है. बीजिंग से हवाई जहाज़ से दो घंटे में यहां पहुंचा जा सकता है. टोक्यो से यहां पहुंचने में ढाई घंटे लगेंगे जबकि हांगकांग से यहां आने में साढ़े तीन घंटे से कम समय लगता है.

इमेज कॉपीरइट Getty

इंचियॉन एयरपोर्ट का भी अपना आकर्षण है. सियोल में कामकाज के चलते रहने वाले अमरीकी माहोगैनी बैकफोर्ड कहते हैं, "इंचियॉन एयरपोर्ट में कुछ बात ज़रूर है. अगर आपको किसी दूसरी फ़्लाइट का यहां इंतज़ार करना पड़े तो यहां आकर्षण के लिए काफ़ी कुछ है- स्पा, गॉल्फ़ कोर्स, स्केटिंग रिंक और म्यूज़ियम."

सियोल में आपको हर जगह सब-वे मिलेंगे. सूवेन सिटी ऐतिहासिक तौर पर दीवारों से घिरी जगह है जो देश के सबसे पुराने शहरों में से है.

1794 में बने ह्वासियोंग फ़ोरट्रेस में सैन्य इतिहास की झलक मिलती है. दक्षिण कोरिया के दूसरे सबसे बड़े शहर बुसान में भी लोगों में काफ़ी उत्साह देखने को मिलता है. यहां छह समुद्री तट भी हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

सियोल से दक्षिण पूर्व में 325 किलोमीटर की दूरी पर है बुसान और यहां सियोल से ट्रेन के ज़रिए ढाई घंटे में पहुंच सकते हैं और कार के ज़रिए चार घंटे में.

एशियाई देशों की अन्य राजधानियों की तुलना में सियोल काफ़ी महंगा शहर है. मगर यह शहर ऐसा है जिसका खर्च वहन किया जा सकता है. सार्वजनिक परिवहन सस्ता है. टैक्सी किराए भी सस्ते हैं.

न्यूयॉर्क और लंदन की तुलना में मकान भी आधी दरों पर किराए पर मिलते हैं. अंतरराष्ट्रीय स्तर के मेगास्टोर भी सस्ते हैं.

अंग्रेज़ी में मूल लेख यहाँ पढ़ें, जो बीबीसी कैपिटल पर उपलब्ध है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार