'गर्भ निरोध रोक सकता है जलवायु परिवर्तन'

कार्डिनल पीटर टर्कसन

कैथलिक चर्च के एक वरिष्ठ पादरी ने कहा है कि गर्भ निरोध जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभाव को रोकने का ''एक समाधान'' हो सकता है.

जलवायु के मुद्दों पर पोप के मुख्य सलाहकार कार्डिनल पीटर टर्कसन ने बीबीसी को बताया कि चर्च प्राकृतिक परिवार नियोजन के ख़िलाफ़ कभी नहीं रहा.

पेरिस में बोलते हुए उन्होंने कहा कि विश्व में हाशिए पर रहने वाले कई देशों की सुरक्षा के लिए पर्यावरण पर एक मज़बूत समझौते की ज़रूरत है. उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन पर्यावरण को नष्ट कर सकता है.

माना जाता है कि कार्डिनल टर्कसन ने जलवायु परिवर्तन पर पोप की तरफ से रोमन कैथलिक चर्च के पादरियों के भेजे जाने वाले मसौदे को तैयार करने में अहम भूमिका निभाई थी.

बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में टर्कसन ने कहा कि गर्भ निरोध से जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों में से कुछ को ख़त्म करने में मदद मिलेगी, ख़ास कर एक ग़र्म दुनिया में खाने की कमी की समस्या में.

उन्होंने कहा, ''इसके बारे में पहले भी बात हुई है और फिलीपिंस से लौटने के बाद पवित्र पिता (पोप) ने लोगों को गर्भ निरोध का इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित किया क्योंकि चर्च कभी भी जन्म नियंत्रण और बच्चों के जन्म में अंतर रखने के ख़िलाफ़ नहीं था. हां यह एक समाधान हो सकता है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार