सीरिया: अमन बहाली के मसौदे पर विपक्ष की मुहर

  • 11 दिसंबर 2015
सीरिया इमेज कॉपीरइट Reuters

सीरिया सरकार के साथ शांति वार्ता को लेकर विपक्षी पार्टियां और विद्रोहियों ने साझा शांति प्रस्ताव तैयार किया है.

सऊदी अरब की राजधानी रियाद में दो दिन की बैठक के बाद सभी गुटों ने इस पर अपनी मुहर लगाई.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़ इसके तहत सीरिया सरकार में सभी वर्गों को उचित प्रतिनिधित्व मिलगा. मगर राष्ट्रपति बशर-अल-असद और उनके साथी कार्यवाहक सरकार के दौरान किसी प्रकार का निर्णय नहीं ले पाएंगे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

वैसे अब तक इसकी कोई ठोस जानकारी नहीं है कि विद्रोही गुट अहरार-अल-शाम ने इस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए हैं या नहीं.

हालांकि समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक़ वार्ता समाप्त होने से ठीक पहले गुट ने इस मसौदे पर अपने हस्ताक्षर कर दिए हैं.

मसौदे में यह उल्लेख भी है कि जब तक कार्यवाहक सरकार का गठन नहीं होता असद सत्ता में बने रह सकते हैं. इससे पहले विपक्षी गुटों ने समझौते से पहले असद को सत्ता से हटने की मांग की थी.

इमेज कॉपीरइट AFP

सऊदी अख़बार अल-हयात के सीरिया संपादक इब्राहिम हमीदी ने बीबीसी से कहा, "यह विपक्ष में आए एक बड़े बदलाव का संकेत है."

दुनिया के सभी देश चाहते हैं कि सीरिया में विपक्ष और बशर-अल-असद सरकार के बीच कोई समझौता हो, जिससे सीरिया में चाढ़े चार साल से चल रहा गृहयुद्ध ख़त्म हो सके.

मार्च 2011 में शुरू हुए इस विद्रोह के बाद से अब तक दो लाख़ 50 हज़ार से ज़्यादा लोग मारे जा चुके हैं और एक करोड़ से ज़्यादा लोग बेघर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार