जिनेवा में दो संदिग्ध चरमपंथी गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट AP

स्विस अधिकारियों का कहना है कि जिनेवा में विस्फोटक और ज़हरीली गैस बनाने, उन्हें छिपाने और दूसरी जगह ले जाने के संदेह में सीरियाई मूल के दो लोगों को गिरफ़्तार किया गया है.

स्विस अटॉर्नी जनरल के बयान में कहा गया है कि इन दोनों लोगों पर उस क़ानून का उल्लंघन करने का संदेह है जो अल क़ायदा और तथाकथित इस्लामिक स्टेट जैसे गुटों को प्रतिबंधित करता है.

बाद में अटॉर्नी जनरल की तरफ़ से इन गिरफ़्तारियों पर ज़्यादा जानकारी दी जाएगी.

जिनेवा में इस हफ़्ते खास तौर से सतर्कता बरती जा रही है क्योंकि वहां 'आईएस की एक इकाई के सक्रिय होने की आशंका' है.

स्विस राष्ट्रपति सिमोनेटा सोमारुगा ने शुक्रवार को कहा कि 'एक विदेशी संस्था ने जिनेवा में आईएस की इकाई होने के बारे में जानदारी' दी है, लेकिन ऐसा कोई संकेत नहीं है कि 'किसी ठोस हमले की योजना बनाई गई है'.

शुक्रवार को स्विस मीडिया की रिपोर्टों में कहा गया कि दो सीरियाई लोग गिरफ़्तार किए गए हैं और उनकी कारों में विस्फोटक के सुराग़ मिले हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार