भारत और रूस के बीच 16 समझौते

  • 24 दिसंबर 2015
मोदी और पुतिन इमेज कॉपीरइट EPA

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रूस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच 16 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं.

भारत के विदेश मंत्रालय ने अपने ट्वीट में ये जानकारी दी है.

विदेश मंत्रालय के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त बयान में कहा कि भारत में कामोव 226 हैलीकॉप्टर बनाने पर हुआ समझौता, मेक इन इंडिया के तहत पहली बड़ी रक्षा परियोजना है.

मोदी ने कहा कि परमाणु ऊर्जा को लेकर हमारे बीच सहयोग बढ़ रहा है. भारत में दो जगहों पर 12 रूसी परमाणु रिएक्टर बनाने के मामले में हम आगे बढ़ रहे हैं.

समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक़, संयुक्त बयान में रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन ने कहा कि रूस अगले दो दशकों में भारत में दो जगहों पर छह परमाणु रिएक्टर बनाएगा.

इमेज कॉपीरइट AP

प्रमुख समझौते-

  1. दोनों देशों के नागरिकों और रजनयिक पासपोर्ट रखने वालों की आवाजाही के लिए कुछ श्रेणियों में नियम क़ायदों को सरल बनाया जाएगा.
  2. हैलिकॉप्टर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में सहयोग.
  3. कस्टम मामलों पर सहयोग की योजना.
  4. रूसी रिएक्टरों का भारत में निर्माण किए जाने पर सहमति.
  5. रेलवे सेक्टर में तकनीकी सहयोग पर सहमति.
  6. भारत में सौर ऊर्जा प्लांट लगाने और ब्रॉडकास्टिंग के क्षेत्र में सहयोग पर एमओयू.
  7. रूस में तेल खनन को लेकर समझौता.

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगले साल होने वाले ब्रिक्स सम्मेलन और दोनों देशों की वार्षिक बैठक के दौरान राष्ट्रपति पुतिन भारत आएंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार