म्यांमार में खनन हादसा, कई लापता

इमेज कॉपीरइट Reuters

म्यांमार के उत्तरी राज्य काचिन में जेड की खान में भूस्खलन की वजह से दर्जनों लोगों के कथित तौर पर लापता होने या मारे जाने की ख़बर है.

घटना शुक्रवार की है. अधिकारी कहते हैं कि बचे हुए लोगों और लाशों की तलाश हो रही है.

पिछले महीने इसी इलाक़े में भारी भूस्खलन की वजह से सौ से ज़्यादा लोगों की जान गई थी.

जेड की खानों से बड़ी मात्रा में निकले चट्टानों के कचरे का ढेर लग जाता है. इन ढेरों पर चढ़कर मज़दूर उसमें से जेड पत्थर तलाशते हैं.

बैंकॉक पोस्ट ने इलाक़े के एक अधिकारी टिंट स्वे मिंट के हवाले से कहा है कि पांच लाशें निकाली गई हैं. मिंट का कहना है, "चश्मदीदों के मुताबिक़ अभी भी क़रीब 50 लोग लापता हैं."

इमेज कॉपीरइट Getty

मगर एक और स्थानीय अधिकारी म्यो टेट ऑन्ग ने समाचार एजेंसी एएफ़पी को बताया कि "फ़िलहाल केवल तीन-चार लोग ही लापता हैं" और मौक़े पर कोई लाश नहीं मिली है.

नवंबर में हुए हादसे में मारे गए लोगों में कई ऐसे थे, जो खनन कंपनियों के इकट्ठा किए चट्टानों के इस ढेर के आसपास ज़िंदगी बिताते थे.

अक्टूबर में ग्लोबल विटनेस नामक संस्था की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि 2014 में उत्पादित जेड की क़ीमत 31 अरब डॉलर थी जो म्यांमार की कुल जीडीपी का क़रीब आधा है. मगर इसके बावजूद आम लोगों तक यह सरकारी पैसा नहीं पहुँच रहा है.

खनन इलाक़े के स्थानीय लोगों ने तमाम समस्याओं के लिए खनन उद्योग को ज़िम्मेदार ठहराया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार