पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान हॉटलाइन से जुड़े

अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान की सेना के अधिकारी. इमेज कॉपीरइट AFP

सीमा पार तनाव को कम करने के लिए पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के सैन्य कमांडरों के बीच हॉटलाइन सेवा शुरू की गई है.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता के मुताबिक़ दोनों देशों की सीमा पर तालमेल सुधारने के लिए पहली बार हॉटलाइन का इस्तेमाल किया गया है.

पाकिस्तान के सेना प्रमुख राहील शरीफ़ की अफ़ग़ानिस्तान यात्रा के दौरान हॉटलाइन शुरू करने पर सहमति बनी थी.

इमेज कॉपीरइट AP

तालिबानी हमले के ख़तरे का मुक़ाबला करने के लिए सीमा पार समन्वय दोनों देशों के लिए एक महत्वपूर्ण मुद्दा है.

इस महीने के शुरू में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने कहा था कि पड़ोसियों से शांतिपूर्ण रिश्ता रखना पाकिस्तान की विदेशी नीति का प्रमुख हिस्सा है.

इस महीने के शुरू में अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी ने पाकिस्तान से संचालित चरमपंथी समूहों पर हिंसा बढ़ाने का आरोप लगाया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अफ़ग़ानिस्तान के अधिकारियों का आरोप है कि अफ़ग़ान तालिबान के वरिष्ठ नेताओं को पाकिस्तान अपने यहां से अभियान चलाने की आज़ादी देता है.

हालांकि पाकिस्तान इसका खंडन करता रहा है, लेकिन यह भी मानता है कि वह चरमपंथियों के संपर्क में है.

इमेज कॉपीरइट Getty

हॉटलाइन शुरू करने की ख़बर ऐसे समय में आई है, जब अफ़ग़ानिस्तान शांति वार्ता में तालिबान को शामिल करने की संभावनाएं तलाशने के लिए अगले सप्ताह पाकिस्तान, अमरीका और चीन के साथ बैठक की मेज़बानी करेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार