न्यूयॉर्क: इस्लामिक स्टेट का 'समर्थक' गिरफ़्तार

  • 1 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

न्यूयॉर्क में पुलिस ने इस्लामिक स्टेट का कथित तौर पर समर्थन करने वाले एक व्यक्ति को गिरफ़्तार किया है.

इस व्यक्ति पर आरोप है कि उसने न्यूयॉर्क के रोचेस्टर इलाके में चरमपंथी हमले की योजना बनाई थी.

25 वर्षीय एमानुएल लचमैन को पुलिस ने बुधवार को इस्लामिक स्टेट को मदद देने की कोशिश करने के आरोप में गिरफ़्तार किया.

अमरीका के सह एटर्नी जनरल जॉन कार्लिन ने संदिग्ध चरमपंथी की गिरफ़्तारी पर कहा, “एमानुएल लचमैन ने आतंकी संगठन आईसिल को समर्थन देने के लिए नववर्ष की पूर्वसंध्या पर बेगुनाह लोगों को मारने करने की योजना बनाई थी. शुक्र है कि उसकी इस घातक योजना का भांडाफोड़ कर दिया गया.”

संदिग्ध आतंकी पर आरोप है कि उसने रोचेस्टर इलाके में बम, चाकू और अन्य हथयारों से एक रेस्तरां में लोगों पर हमले करने की योजना बनाई थी.

इमेज कॉपीरइट FBI

एमानुएल लचमैन ने पिछले नवंबर महीने में ही अमरीकी जांच संस्था एफ़बीआई के एक खुफिया एजेंट के साथ बातचीत के दौरान इस्लामिक स्टेट के प्रति अपना समर्थन जताया था और संगठन के साथ जुड़ने के लिए सीरिया जाने की भी मंशा ज़ाहिर की थी.

एफ़ बी आई के खुफिया एजेंट ने उसकी बातचीत भी रिकॉर्ड कर ली थी.

दावा है कि बातचीत के दौरान लचमैन ने यह भी कहा था कि वह सीरिया में इस्लामिक स्टेट के एक चरमपंथी के साथ संपर्क में भी है.

औऱ कथित तौर पर इस्लामिक स्टेट के उसी आतंकी ने लचमैन से कहा कि वह अमरीका के अंदर नववर्ष की पूर्व संध्या पर आतंकी हमले करके इस्लामिक स्टेट के प्रति अपना समर्थन जताए तो उसे सीरिया बुलाया जा सकता है.

लचमैन इससे पहले 2006 में डकैती के जुर्म में 5 वर्ष की जेल काट चुका था और जेल में ही वह कथित तौर पर चरमपंथ से प्रेरित हो गया था.

न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू कुओमो ने कहा, "इस संदिग्ध चरंपंथी एमानुएल लचमैन की गिरफ़्तारी ने हमें वैश्विक आतंकवाद के खतरे के बारे में फिर से याद दिलाया है. आज सुरक्षा एजेंसियों ने बेहतरीन काम किया. लोकिन हमें बहुत बड़ी चुनौतियों का सामना है औऱ हर शहरी की ज़िम्मेदारी है कि वह भी चौकन्ना रहें."

इमेज कॉपीरइट AP

यह गिरफ़्तारी ऐसे समय में हुई है कि जब न्यूयॉर्क शहर में नववर्ष मनाने की तैय्यारी से संबंधित कार्यक्रमों के मद्देनज़र बेहद कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है.

मशहूर टाईम्स स्कवायर में हज़ारों लोग जमा हो रहे हैं और हर वर्ष की तरह नववर्ष के स्वागत के लिए संगीत कार्यक्रम भी आयोजित किए गए हैं.

इस इलाके में सुरक्षा के लिए 6000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं और पूरे शहर में हज़ारों पुलिस वाले निगरानी कर रहे हैं.

अधिकारियों का कहना है कि न्यूयॉर्क पर किसी हमले के ख़तरे के बारे में कोई पुख्ता जानकारी तो नहीं है लेकिन हाल में ही पहले पेरिस फिर केलीफ़ोर्निया में हमलों के बाद से सुरक्षा बेहद सख़्त कर दी गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार