तालिबान के हमले में अमरीकी सैनिक की मौत

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान लड़ाका इमेज कॉपीरइट AFP

अफ़ग़ानिस्तान में अमरीकी सेना पर तालिबान के एक हमले में कम से कम एक सैनिक की मौत हो गई है और दो घायल हैं.

विशेष सैन्य बल दक्षिणी प्रांत हेलमंद में एक चरमपंथ विरोधी अभियान में हिस्सा ले रहे थे.

घायलों को लेने गए एक मेडिकल हेलीकॉप्टर को वहीं उतरना पड़ा है और यह अभी तक उड़ान नहीं भर सका है.

अभी भी क़रीब 1200 विदेशी सैनिक अफ़ग़ानिस्तान में तैनात हैं जो तालिबान से लड़ने में स्थानीय सेना की मदद कर रहे हैं.

मारजाह शहर के नज़दीक हुए इस घटनाक्रम के बारे में अभी पुष्ट जानकारियां नहीं मिल सकी हैं.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अफ़ग़ानिस्तान के साथ हुए समझौते के तहत अभी भी कुछ अमरीकी सैनिक अफ़ग़ानिस्तान में मौजूद हैं.

अमरीकी सेना के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल विल्सन शॉफ़नर ने कहा है कि एक सैनिक की मौत हो गई है.

मारे गए सैनिक की पहचान अभी सार्वजनिक नहीं की गई है.

इस हमले में कई अफ़ग़ान सैनिक भी घायल हुए हैं.

अपुष्ट ख़बरों के मुताबिक़ एक चिकित्सा हेलिकॉप्टर भी गोलीबारी का शिकार हुआ है.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption 2011 मेें अफ़ग़ानिस्तान में एक चिनूक हेलीकॉप्टर हादसे में 30 अमरीकी सैनिक मारे गए थे.

एक अमरीकी रक्षा अधिकारी के मुताबिक़ हेलीकॉप्टर को ज़मीन पर रहते हुए ही नुक़सान पहुँचा है.

अधिकारी के मुताबिक़ सेना हेलीकॉप्टर को वापस लाने के प्रयास कर रही है. हालांकि उन्होंने इससे ज़्यादा जानकारी नहीं दी है.

हेलमंद प्रांत तालिबान का गढ़ रहा है. बीते साल सितंबर में तालिबान ने कुछ दिनों के लिए कुंदूज़ पर क़ब्ज़ा कर लिया था.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)