'शार्ली एब्दो' की बरसी पर गोलीबारी, एक की मौत

  • 7 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

फ़्रांस की पुलिस ने कथित रूप से पुलिस स्टेशन पर हमले की कोशिश कर रहे एक आदमी को गोली मार दी है.

पुलिस के मुताबिक़ यह कथित हमला गुरुवार को शार्ली एब्दो पर हमले की वर्षगांठ पर किया गया.

7 जनवरी, 2015 को फ्रांस की मशहूर व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो पर चरमपंथी हमला हुआ था. जिसमें 17 लोग मारे गए थे. इनमें तीन पुलिसकर्मी थे.

इमेज कॉपीरइट APTN

अधिकारियों के मुताबिक़ कथित हमलावर के पास चाकू था और उसने नकली आत्मघाती जैकेट पहन रखी थी.

हमले से कुछ मिनट पहले फ़्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद पिछले साल चरमपंथी हमलों के दौरान पुलिस के साहस की तारीफ़ कर रहे थे.

राष्ट्रपति ओलांद का कहना था कि उनकी सरकार 5000 अतिरिक्त पुलिसकर्मी तैनात कर रही है. साथ ही खुफ़िया एजेंसी को मज़बूत बनाने के इरादे से उसमें 2000 नौकरियां भी निकलेंगी.

राष्ट्रपति के भाषण के कुछ ही देर बाद उत्तरी फ्रांस के 18वें प्रांत से गोलीबारी की ख़बर आई.

इमेज कॉपीरइट Getty

अधिकारियों के मुताबिक़ कथित हमलावर 'अल्लाहो-अकबर' चिल्ला रहा था.

पिछले साल चरमपंथी हमलों में पुलिस ने तीन हमलावरों को मार दिया था.

सवाल उठ रहे हैं कि कहीं अब भी कथित जिहादी और मध्य पूर्व से ताल्लुक रखने वाले फ्रांस में तो मौजूद नहीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमेंफ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार