लो जी इन्होंने तो हाईवे ही चुरा लिया...

रूस में मेटल की चोरी इमेज कॉपीरइट AFP

रूस में एक दिलचस्प मामला सामने आया है. इस मामले में 50 किलोमीटर लंबे 'हाईवे को चुराने' के आरोप में एक वरिष्ठ जेल अधिकारी को हिरासत में लिया गया है.

पुलिस के मुताबिक उनके एक अधिकारी ने वरिष्ठ जेल अधिकारी को क़रीब एक साल तक सुदूर उत्तर कोमी के इलाके में सड़क तोड़ते हुए देखा था.

बताया जाता है कि सड़क के 7,000 मज़बूत कॉन्क्रीट के टुकड़ों को गाड़ियों में लाद कर ले जाया गया और निजी फ़ायदे के लिए बेच दिया गया.

यह एक अजीब चोरी है, लेकिन अनूठी नहीं.

हम नज़र डाल रहे हैं 8 अन्य ऐसी चोरियों पर जहां चोरों ने अजीबोगरीब चीज़ें चुराने की कोशिश की.

इमेज कॉपीरइट Thinkstock
Image caption रूस में चोर पुराने मेटल की चोरी के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हैं.

रूस में हाईवे की चोरी यहां का पहला वाकया नहीं था. 29 दिसंबर 2007 को रूस के ही खैबरोस्क प्रांत में 200 टन का स्टील का एक पुल रातों रात ग़ायब हो गया.

11.5 मीटर लंबा यह पुल बिजली के तारों के ऊपर से कारों की आवाजाही के लिए बनाया था और इसमें 50 सेंटीमीटर के चार पाइपों के ऊपर स्टील की पट्टियां लगाई गई थीं.

माना जाता है कि चोरी करने वालों ने रातों रात पुल को टुकड़ों में काट दिया और इसे पुराने मेटल यानी स्क्रैप मैटल के रूप में बेच दिया.

इमेज कॉपीरइट PA
Image caption ज़ुल्स रिमे ट्रॉफ़ी फुटबॉल विश्व कप ट्रॉफ़ी की नकल, जिसे दो बार चुराया गया.

मार्च 1966 में ब्रिटेन विश्व कप फुटबॉल खेलों के आयोजन में लगा हुआ था और इसमें पुरस्कार में दिए जाने वाले कप को लंदन के एक्ज़ीबिशन हॉल में रखा गया था.

कम से कम दो सुरक्षाकर्मियों के हॉल में मौजूद होने के बावजूद 30,000 पाउंड का ठोस धातु से बना यह ज़ुल्स रिमे कप गा़यब हो गया.

इस पुरस्कार कप को दक्षिण लंदन में एक कुत्ते, पिकल्स ने ढ़ूंढ़ निकाला जो अपने मालिक के साथ घूमने निकला था.

कप के विजेता ब्राज़ील ने कहा कि यह एक पवित्र वस्तु का अनादर है जो ब्राज़ील में कभी नहीं होता, जहां चोर भी फुटबॉल के खेल को बहुत पसंद करते हैं.

ब्राज़ील ने पिछले 8 साल तक खेल जीतकर कप हासिल किया था.

बाद में 1983 में ज़ुल्स रिमे कप फिर से एक बार चोरी हो गया, इस बार ब्राज़ील के रियो-डी-जेनेरियो से. यह कप अब तक ढ़ूंढ़ा नहीं जा सका.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption मेडोना का बड़े वक्षों वाला कपड़ा 1992 में लॉस एंजेलिस में दंगों के दौरान चोरी हुआ. साथ ही इवा गार्डनर की पतलून और पुश-अप ब्रा भी चोरी हुआ जिसे 'मैरिड विद चिल्ड्रन' सिरीज़ में देखा गया था.

साल 1992 में लॉस एंजेलिस में दंगों के दौरान जब कुछ लोग महंगे इलेक्ट्रोनिक सामानों की चोरी कर रहे थे, कुछ लोग थे जो महिलाओं के अंत:वस्त्रों की चोरी कर रहे थे.

चोर 'फ्रेडरिक ऑफ़ हॉलीवुड' दुकान में घुसे और दुकान के अंत:वस्त्र म्यूज़ियम से कई सामान चुरा कर भाग निकले, जिसकी कीमत लगभग 20,000 डॉलर थी.

मेडोना का बैंगनी वस्त्र जिसमें सोना लगा हुआ था, उसे उन्होंने म्यूज़िक वीडियो 'ओपन योर हार्ट' में पहना था. इसे वापस पाने के लिए कंपनी ने 1,000 डॉलर का इनाम भी रखा लेकिन यह दोबारा नहीं मिला.

लेकिन बाद में मेडोना 'फ्रेडरिक ऑफ़ हॉलीवुड' को इसकी एक नकल देने के लिए तैयार हो गईं.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption मेपल पेड़ों का रस निकाल कर उसे पकाकर सिरप बनाया जाता है.

साल 2012 में कनाडा में तीन लोगों को करोड़ों रुपये के मेपल सीरप चुराने के लिए गिरफ्तार किया गया.

यह मेपल सीरप क्यूबेक के एक गोदाम से चुराया गया था. अधिकारियों ने गोदाम की जांच करते समय पाया कि वहां ख़ाली बैरल रखे हैं.

माना जाता है कि चोरों ने 2 करोड़ कनाडा डॉलर की चोरी के माल (जो कि उस साल की पैदावार का बड़ा हिस्सा थी) का कुछ हिस्सा कनाडा के कुछ प्रांतों में और अमरीका में बेचा.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption आज के यूक्रेन में चर्नोबिल विश्व के सबसे बुरे परमाणु हादसे के लिए जाना जाता है. यहां 1986 में एक बड़ी परमाणु दुर्घटना हुई थी.

साल 2012 में चोरों ने एक ट्रेलर वाली छोटी कार का इस्तेमाल करते हुए चर्नोबिल परमाणु हादसे की जगह से 300 किलो मेटल चुराने की कोशिश की.

पुलिस ने उन्हें गिरफ़्तार किया और कार और मेटल दोनों बरामद कर लिए.

इसके एक साल पहले चर्नोबिल के तीन कर्मचारियों को रेडियोधर्मी धातु चुराने के लिए सज़ा हुई थी. उन पर रिएक्टर के आसपास सुरक्षा घेरा बनाए जाने वाली जगह से फर्ज़ी दस्तावोज़ों की मदद से 24 टन रेडियोधर्मी मेटल चुराने का आरोप था.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption डर्क इसकी तरह दिखने वाली एक ऑस्ट्रेलियाई फेयरी पेन्गुइन है

ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड में पुलिस ने दो ब्रितानी और एक ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति को एक थीम पार्क में घुस कर, वहां से फेयरी पेन्गुइन डर्क की चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया.

शराब के नशे में चूर ये लोग सी वर्ल्ड थीम पार्क में डॉलफ़िन के साथ तैरे और फिर उन्होंने ये चोरी की.

इन लोगों ने बाद में बताया कि ये शराब के नशे में किया गया मज़ाक था. उन्होंने बताया कि दूसरे दिन उन्हें अपने घर में एक अनजाने मेहमान को देख कर आश्चर्य हुआ था.

उन्होंने बताया कि वे डर गए थे और पेन्गुइन को नज़दीक के एक पार्क में छोड़ आए, जहां से बाद में उसे बरामद कर लिया गया और 'स्वस्थ लेकिन थकी हुई' हालत में सी वर्ल्ड को लौटा दिया गया.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption शर्ग़ार को लोग घुड़दौड़ का सबसे बढ़िया खिलाड़ी के तौर पर जानते हैं.

एक और जानवर जो चोरों की पसंद बना रहा वह कोई छोटा जानवर नहीं वरन एक काफ़ी बड़ा रेस का चैंपियन था.

फरवरी 1983 में आयरलैंड में बैलीमनी स्टड फ़ार्म में घुस कर चोरों ने विश्व में घुड़दौड़ के सबसे नामी और महंगे घोड़े शर्ग़ार को अगवा कर लिया.

शर्ग़ार ने कई बड़ी प्रतियोगिताएं जीती थीं और घोडियों के गर्भाधान कराने के लिए उसकी फ़ीस 1 करोड़ पाउंड थी.

कई हफ़्तों तक शर्ग़ार की खोज चलती रही.

शर्ग़ार की चोरी का शक़ आयरिश रिपब्लिकन आर्मी पर गया जो उस वक्त काफ़ी ताकतवर थी और अपनी सेना के लिए हथियार ख़रीदने के लिए धन की तलाश कर रही थी.

लेकिन न तो कभी किसी ने शर्ग़ार की चोरी की बात स्वीकार की और न ही वह कभी किसी को दोबारा दिखा.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption चिंपाज़ियों को मनुष्य की नकल उतारने के लिए जाना जाता है.

एक जानवर जिस पर चोरी का आरोप लगा, वह था लंदन का एक चिंपांज़ी. साल 2002 में इसने एक मोबाइल फ़ोन और कुछ इलेक्ट्रोनिक सामान की चोरी की थी.

जून की एक रात पुलिस को पूर्वी लंदन के दो अलग-अलग जगहों से चोरी की दो घटनाओं की सूचना मिली. पुलिस को दूसरी चोरी की ख़बर देने वाले ने बताया कि उसने घर से एक चिंपांज़ी को निकलते हुए देखा है.

मुस्तफ़ा रियत ने बताया कि घर की निचली मंज़िल में वह जाग रहे थे जब उन्होंने पांच फुट लंबे घने बालों वाले एक जीव को अपने सामने देखा.

पुलिस एक संदिग्ध की तलाश में जुट गई थी जो काले, चमकदार और लंबे बालों वाला हो. स्पष्ट नहीं है कि इस मामले में आख़िर क्या बना.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार