पाकिस्तान: यूनिवर्सिटी पर हमला, 20 की मौत

  • 20 जनवरी 2016
इमेज कॉपीरइट peshawar

उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के पख़्तूनख़्वाह प्रांत में मौजूद बाचा ख़ान विश्वविद्यालय पर हमले में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं.

चारसद्दा शहर में हुए इस हमले में क़रीब 50 लोगों के ज़ख़्मी होने की भी ख़बर है.

सुरक्षाबलों से हुई मुठभेड़ में कम से कम चार चरमपंथी मारे गए हैं. मुठभेड़ तक़रीबन तीन घंटे तक चली.

हमले की ज़िम्मेदारी तालिबान ने ली है या नहीं, इसे लेकर विरोधाभासी ख़बरें मिल रही हैं.

प्रतिबंधित संगठन तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान के मुख्य प्रवक्ता मोहम्मद खुरासानी का कहना है कि इस हमले में तालिबान शामिल नहीं है और ये हमला 'ग़ैर इस्लामिक' है.

लेकिन एक और एक वरिष्ठ तालिबान नेता उमर मंसूर ने बीबीसी उर्दू को टेलीफोन करके दावा किया है कि उनके चार लड़ाकों ने इसे अंजाम दिया है.

उनका कहना था कि पेशावर स्कूल हमलावर सेना जबकि यह हमला देश के राजनीतिक नेतृत्व को संदेश देने के लिए किया गया.

पीटीवी के मुताबिक़ हमला स्थानीय समयानुसार सुबह नौ बजे के क़रीब हुआ और हमलावर फ़ायरिंग करते हुए विश्वविद्यालय के अंदर घुसे थे.

इससे पहले साल 2014 में पाकिस्तान तालिबान ने चारसद्दा से क़रीब 50 किलोमीटर दूर पेशावर के आर्मी स्कूल पर हमला करके 130 छात्रों की हत्या कर दी थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

बाचा ख़ान विश्वविद्यालय में क़रीब 3000 छात्र पढ़ते हैं. बुधवार को एक कविता समारोह होने की वजह से वहां सैकड़ों अतिथि भी मौजूद थे.

रॉयटर्स समाचार एजेंसी को दिए अपने बयान में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने कहा है, "हम अपने मुल्क की ज़मीन से चरमपंथ को पूरी तरह मिटाने के लिए कटिबद्ध हैं."

ख़ैबरपख़्तूनख़्वाह के सूचना मंत्री शाह फ़रमान ने घटनास्थल का जायज़ा लेने के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि अभी तक कम से कम 19 लोग मारे गए हैं.

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार