इराक़: इस्लामिक स्टेट ने ईसाई मठ को 'तबाह' किया

इराक़ इमेज कॉपीरइट DigitalGlobe via AP

उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों से पुष्टि हुई है कि इराक़ के सबसे पुराने ईसाई मठ को चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने नष्ट कर दिया है.

हालांकि विश्लेषकों का कहना है कि संबंधित तस्वीरों से संकेत मिलता है कि इस जगह को वर्ष 2014 में ही तबाह किया गया था.

वर्ष 2014 में ही इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों ने मोसुल पर कब्ज़ा किया था. उत्तरी शहर मोसुल के नज़दीक सेंट एलिजा ईसाइयों का 1400 वर्ष पुराना केंद्र था.

इमेज कॉपीरइट AP

मोसुल के एक कैथोलिक पादरी पॉल हबीब का कहना है, ''हम इसे ईसाइयों को इराक़ से भगाने, हमारे अस्तित्व को नष्ट करने की कोशिश के तौर पर देखते हैं.''

पादरी पॉल हबीब अब कुर्द प्रशासित इरबिल में रहते हैं.

इस्लामिक स्टेट ने इराक़ और पड़ोसी सीरिया में ईसाइयों को निशाना बनाया है और उनकी सम्पत्ति पर कब्ज़ा कर लिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार