'फ्रांस में इमरजेंसी तब तक, आईएस है जब तक'

मैनुएल वाल्स इमेज कॉपीरइट AFP

फ्रांस ने कहा है कि वो तब तक देश में आपातकाल की स्थिति रखेगा जब तक कि चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट के ख़िलाफ़ 'पूर्ण और वैश्विक जंग' खत्म नहीं हो जाती.

फ्रांस के प्रधानमंत्री मैनुएल वाल्स ने बीबीसी से कहा कि आपातकाल की स्थिति में पुलिस को अधिक अधिकार मिल जाते हैं और वो संदिग्धों पर छापे और उन्हें नज़रबंद कर सकती है.

पेरिस में पिछले साल 13 नवंबर को आईएस चरमपंथियों ने हमला किया था. इसके बाद वहाँ आपातकाल लगा दिया गया था और फिर इसे तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया था.

वाल्स ने यूरोप में शरणार्थी संकट को लेकर भी चेतावनी दी. उन्होंने कहा कि सीरिया और मध्यपूर्व से बड़ी संख्या में शरणार्थी आने से यूरोपीय यूनियन भारी दबाव में है.

इस मुद्दे पर जर्मनी की चासंसल एंगेला मर्केल बर्लिन में तुर्की के प्रधानमंत्री अहमत दावुतोग्लु से मुलाक़ात करने वाली हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

यूरोपीय देशों को उम्मीद है कि तुर्की यूरोप की तरफ जाने वाले शरणार्थियों के प्रवाह को कुछ कम कर सकता है.

दावोस में विश्व आर्थिक मंच की बैठक में हिस्सा लेने आए वाल्स ने बीबीसी से बातचीत में कहा, "फ्रांस जंग की स्थिति में है, जिसका मतलब है कि अपने नागरिकों की रक्षा के लिए लोकतंत्र में क़ानून में उपलब्ध सभी कदमों का इस्तेमाल कर रहे हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार