ग्रीस के चलते 'ख़तरे में वीजा फ्री क्षेत्र'

प्रवासी, ग्रीस इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

यूरोपीय आयोग का कहना है कि ग्रीस यदि प्रवासियों के प्रबंधन की ख़ामियों को दूर नहीं कर पाया तो उसे पड़ोसी देशों से लगने वाली सीमाओं पर नए नियंत्रणों का सामना करना पड़ सकता है.

यूरोपीय आयोग की एक मसौदा रिपोर्ट में कहा है कि ग्रीस यूरोप के वीज़ा मुक्त शेनेगन क्षेत्र की बाहरी सीमाओं को सुरक्षित करने की 'अपनी ज़िम्मेदारियों की गंभीर अनदेखी कर रहा है.'

ग्रीस को बीते साल नवंबर में प्रवासियों को रजिस्टर करने, उनकी जांच करने और फिंगर-प्रिंट लेने में कोताही बरतने का दोषी पाया गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

इस रिपोर्ट को मंज़ूरी मिलने की स्थिति में ग्रीस को सुधार करने के लिए तीन महीने का वक्त दिया जाएगा.

सुधार नहीं होने पर यूरोपीय आयोग ग्रीस से लगने वाले देशों को अपनी सीमाओं पर अस्थायी नियंत्रण दोबारा स्थापित करने की सिफ़ारिश कर सकता है.

प्रवासी संकट की वजह से शेनगेन वीज़ा प्रणाली ख़तरे में पड़ गई है. इस प्रणाली में शेनगेन ज़ोन में आने वाले यूरोपीय देशों में लोग पासपोर्ट की जाँच के बिना एक देश से दूसरे देश जा सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट Getty

बीते साल साढ़े आठ लाख से अधिक प्रवासी ग्रीस पहुंचे थे. इस साल अब तक 44 हजार प्रवासी ग्रीक द्वीपों पर पहुंचे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार