क्यों ट्रेंड कर रहा है समधी का पाकिस्तान?

इमेज कॉपीरइट Twitter

पाकिस्तान में ट्विटर पर #SamdhiKapakistan ट्रेंड कर रहा है. इस हैशटैग में एक घंटे के भीतर लगभग सात हज़ार ट्वीट किए गए.

दरअसल पाकिस्तानी मीडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ वित्त मंत्री इसहाक़ डार के पासपोर्ट को लाहौर से इस्लामाबाद पहुँचाने के लिए 20 हज़ार रुपए टैक्सी पर ख़र्च किए गए.

इसहाक़ डार पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ के समधी हैं. उनके बेटे की शादी नवाज़ की बेटी से हुई है.

इस मामले से जुड़े दस्तावेज़ भी ट्विटर पर ख़ूब शेयर किए जा रहे हैं.

हालांकि इन दस्तावेज़ों की प्रामाणिकता का पता नहीं चल सका है और न ही प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ या उनके समधी की ओर से ही इस बारे में कोई बयान दिया गया है.

अवामी नुमाइंदा नाम के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, "वे जनता का पैसा बर्बाद कर रहे हैं लेकिन उन्हें कोई शर्म नहीं आ रही है. बेशर्म शासक."

इमेज कॉपीरइट Facebook Page Ishaq dar

फ़रहान ख़ान विर्क ने एक दस्तावेज़ की तस्वीर के साथ लिखा, "सिर्फ़ इसहाक़ डार का पासपोर्ट पहुँचाने के लिए 20 हज़ार ख़र्च."

आयशा बलोच ने एक बदहाल सरकारी अस्पताल की तस्वीर के साथ ट्वीट किया, "पैसा न होने की वजह से सरकारी अस्पतालों की हालत ख़राब है लेकिन समधी की प्राथमिकताएं कुछ और हैं."

आब-ए-कौसर ने ट्वीट किया, "एक सामान्य आदमी लाहौर से इज़लो हज़ार रुपए में जा सकता है लेकिन इसहाक़ डार के पासपोर्ट के लिए 20000 ख़र्च होते हैं."

फ़ातमा हसीन ने ट्वीट किया, "इसहाक़ डार जनता का पैसा ख़र्च कर सकते हैं लेकिन जनता को सरकारी स्कूल के बाहर सुरक्षा नहीं मिल सकती."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार