श्रीलंका: पूर्व राष्ट्रपति राजपक्षे के पुत्र गिरफ्तार

योशिता राजपक्षे इमेज कॉपीरइट AP

श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के बेटे योशिता राजपक्षे को आर्थिक धोख़ाधड़ी के आरोप में शनिवार को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

योशिता समेत चार अन्य लोगों पर एक निजी टेलीविज़न चैनल "सीएसएन" (कार्लटन स्पोर्ट्स नेटवर्क) से संबंधित पैसों के अवैध लेनेदेन का आरोप है.

माना जाता है कि राजपक्षे के बेटे इस चैनल के मालिक हैं, हालांकि राजपक्षे इससे इनकार करते हैं.

योशिता पर यह भी आरोप है कि उन्होंने इस निजी टीवी चैनल को चलाने के लिए सरकारी संसाधनों का दुरूपयोग किया.

शनिवार दोपहर योशिता को कोलंबो में न्यायाधीश के सामने पेश किया गया.

इमेज कॉपीरइट AP

महिंदा राजपक्षे ने मौजूदा सरकार से अपील की है कि वे उनके बच्चों से राजनीतिक बदला न लें.

वे जेल में अपने बेटे योशिता से मिल कर लौट रहे थे.

राजपक्षे के परिवार ने इस बात से इंकार किया है कि याशिता कंपनी में मुख्य भूमिका में थे और उनके पिता के राष्ट्रपति रहते क्रिकेट मैचों के प्रसारण के अधिकार चैनल को दिए गए थे.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पूर्व राष्ट्रपति राजपक्षे समेत उनके दो भाइयों गोटाभाया और बासिल राजपक्षे पर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं. पिछले साल जनवरी में चुनावों में हार से पहले गोटाभाया और बासिल प्रशासन में उच्च पदों पर थे.

भ्रष्टाचार के मामले की जांच में राजपक्षे की पत्नी श्रीशांति राजपक्षे को भी प्रेसिडेंशियल कमीशन के सामने पेश होने के लिए समन दिए गए हैं.

पुलिस उनके बड़े बेटे नमल राजपक्षे जो विपक्षी संसद हैं, उनकी भी जांच कर रही है. उनसे पहले भी पुलिस पूछताछ कर चुकी है.

नमल राजपक्षे ने कहा, "मेरे पिता के कुछ नज़दीकी सरकारी मंत्रियों ने मुझे कुछ दिन पहले सूचना दी थी कि इस सप्ताह मैं या मेरे भाई योशिता गिरफ्तार होने वाले हैं."

इमेज कॉपीरइट STR AFP Getty Images
Image caption योशिता राजपक्षे और महिंदा राजपक्षे

"वे मेरे पिता को राजनीति नहीं करने देना चाहते, इसलिए वे हमारे पीछे पड़े हैं."

योशिता एक नौसेना अधिकारी हैं और रविवार को नौसेना मुख्यालय में उनसे छह घंटों से अधिक समय तक पूछताछ की गई.

उनके साथ सीएसएन टीवी चैनल के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी, श्रीलंका क्रिकेट के पूर्व सचिव निशांत रणतुंगा को भी गिरफ्तार किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार