ब्रितानी पुलिस के सामने सरेंडर कर सकते हैं असांज

इमेज कॉपीरइट AP

विकीलीक्स संस्थापक जूलियन असांज ब्रिटेन की पुलिस के आगे आत्मसमर्पण कर सकते हैं.

जूलियन असांज ने गुरुवार को विकीलीक्स के ट्विटर अकाउंट पर लिखा, "यदि संयुक्त राष्ट्र ये घोषणा करती है कि मैं ब्रिटेन और स्वीडन के खिलाफ मामला हार गया हूं तो मैं खुद को ब्रितानी पुलिस के हवाले कर दूंगा. क्योंकि इस मामले में अब आगे अपील करने का कोई मतलब नहीं."

उन्होंने आगे ट्वीट किया, "जबकि यदि सरकारी पक्ष ग़लत साबित होता है तो उम्मीद करता हूं कि मेरा पासपोर्ट तुरंत लौटा दिया जाएगा और भविष्य में मेरे गिरफ्तार किए जाने का कोई प्रयास नहीं किया जाएगा."

इमेज कॉपीरइट Getty

संयुक्त राष्ट्र का 'वर्किंग ग्रुप ऑन आरबिट्ररी डिटेन्शन' शुक्रवार को जूलियन असांज के मामले में अपनी छानबीन के नतीजों की घोषणा करने वाला है.

पैनल के कानूनी जानकारों ने किसी फैसले पर पहुंचने के लिए ब्रिटेन और स्वीडन से साक्ष्य जुटाएं हैं.

2014 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र को शिकायत की थी कि उन्हें 'स्वैच्छिक हिरासत' में रखा गया है.

जूलियन असांज ने जून 2012 से लंदन स्थित इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले रखी है. उन पर यौन शोषण का आरोप है. हालांकि इस आरोप से वे इनकार करते रहे हैं.

ऑस्ट्रेलियाई मूल के असांज को स्वीडन ने यूरोपीय गिरफ्तारी वारंट के तहत लंदन में 2010 में गिरफ्तार किया गया था.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

2012 में असांज ने इक्वाडोर से उन्हें शरण देने की अपील की थी.

अपील को स्वीकारते हुए इक्वाडोर उन्हें अपने लंदन स्थित दूतावास में शरण दे दी थी.

दरअसल असांज को डर था कि अगर उन्हें प्रत्यर्पित किया जाता है तो स्वीडन पहुंचते ही उन्हें गिरफ़्तार कर अमरीका भेज दिया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट AFP

वहां उनपर गुप्त सरकारी दस्तावेज़ लीक करने के आरोप में मुक़दमा चलाया जाएगा.

दो महीने पहले स्वीडन अधिकारियों ने कहा था कि उन्हें इक्वाडोर के साथ किसी समझौते पर पहुंचने की उम्मीद है जिससे लंदन में असांज से सवाल करने का रास्ता साफ होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार