ग़ैर मुसलमानों के लिए खुलेंगी मस्जिदें

मस्जिद

ब्रिटेन में 80 से अधिक मस्जिदों के दरवाजे रविवार को ग़ैर मुसलमानों के लिए खोले जाएंगे.

इस्लाम के बारे में नकारात्मक धारणा को बदलने और लोगों को इस धर्म के बारे में जानकारी देने के लिए ऐसा किया जा रहा है.

बीबीसी की धार्मिक मामलों की संवाददाता कैरोलीन वाट के मुताबिक़ 'विजिट माई मॉस्क डे' का आयोजन मुस्लिम काउंसिल ऑफ़ ब्रिटेन कर रहा है.

लंदन, बर्मिंघम, मैनचेस्टर, लीड्स, ग्लास्गो, कार्डिफ़ और अन्य शहरों में मस्जिदों को ग़ैर मुसलमानों के लिए खोला जाएगा.

इससे पहले शनिवार को पेगिडा एंटी इस्लाम मूवमेंट ने बर्मिंघम में एक मार्च निकाला. इसमें 200 से कम लोग शामिल हुए लेकिन यह इस बात का संकेत है कि इस्लाम के बारे में लोगों का डर बढ़ रहा है और यह धारणा पूरे यूरोप में फैल रही है.

इसी डर को दूर करने के लिए मॉस्क ओपन डे का आयोजन किया जा रहा है. इस दौरान ग़ैर मुसलमानों को मस्जिदों में इस्लाम के बारे में बताया जाएगा, नमाजियों को देखने का मौका दिया जाएगा या फिर चाय की एक प्याली पिलाई जाएगी.

आयोजकों का कहना है कि इस तरह के आयोजन से मुसलमानों को अपने धर्म के बारे में दूसरों को बताने का मौका मिलेगा.

इमेज कॉपीरइट Getty

पिछले एक साल में देश में मुस्लिम विरोधी अपराधों में भारी इजाफा हुआ है. अकेले लंदन में ही पिछले साल इस तरह की 158 घटनाएं हुईं जो उससे पिछले साल की तुलना में तीन गुना ज़्य़ादा है.

ब्रिटेन में करीब 30 लाख मुसलमान हैं जो देश की कुल जनसंख्या का पांच प्रतिशत है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार