50 हज़ार बच्चों पर मंडराती मौत

सोमालिया इमेज कॉपीरइट AFP

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, सोमालिया में सूखे की वजह से 50 हज़ार से ज़्यादा बच्चों पर मौत का ख़तरा मंडरा रहा है.

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय मामलों के अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि कुपोषण की वजह से हालत ख़तरनाक स्थिति तक पहुंच गई है.

सोमालिया में दस लाख लोगों को यानी यानी हर 12 में से एक व्यक्ति को भोजन के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है.

सोमालिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के संयोजक पीटर डे क्लेयर्क ने कहा है कि 58,300 बच्चों को अगर इलाज नहीं मिला तो वे मर सकते हैं.

उन्होंने कहा है कि ज़्यादा से ज़्यादा लोग सूखे के बिगड़ते हालात के शिकार हो सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

'अल-नीनो' के प्रभाव के कारण पूर्वी और दक्षिण अफ्रीका सूखे की चपेट में है.

जो इलाक़े सूखे से सबसे ज़्यादा प्रभावित हैं उनमें पुंटलैंड के कुछ हिस्से और स्वघोषित रिपब्लिक ऑफ़ सोमालीलैंड शामिल हैं.

इसके अलावा सोमालिया में सालों से चल रहे हिंसक संघर्ष से भी स्थिति ज़्यादा भयावह हो गई है.

संयुक्त राष्ट्र ने सोमालिया के लिए ज़्यादा सहायता राशि की मांग की है.

वहीं पड़ोसी देश इथियोपिया में खाने की कमी से जूझ रहे करीब एक करोड़ लोगों को भोजन की मदद देने की ज़रूरत है.

जिम्बाब्वे ने तो अपने कुछ इलाक़ों में तो प्राकृतिक आपदा घोषित कर दिया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार