एफ़बीआई से नहीं हुआ हमलावर का फ़ोन अनलॉक

सैयद फ़ारूक और तशफ़ीन मलिक इमेज कॉपीरइट AP

अमरीकी जांचकर्ता पिछले साल सैन बर्नारडिनो में हुई गोलीबारी में शामिल एक हमलावर के फ़ोन को अनलॉक नहीं कर पाए हैं.

यह जानकारी अमरीकी जांच एजेंसी एफ़बीआई ने दी है.

कैलिफ़ोर्निया के सैन बर्नारडिनो में पिछले साल पांच दिसंबर को सैयद फ़ारूक और तशफ़ीन मलिक ने गोलीबारी करके 14 लोगों की हत्या कर दी थी.

यह दंपती तथाकथित चरमपंथी संगठन आईएस से प्रभावित थे.

इमेज कॉपीरइट AP

एफ़बीआई ने फ़ारूक का मोबाइल फ़ोन बरामद किया था. लेकिन एफ़बीआई के निदेशक जेम्स कूमी ने कहा कि इस फ़ोन को अभी तक अनलॉक नहीं किया जा सका है.

उन्होंने कहा कि इस तरह की तकनीक जांच अधिकारियों के लिए बहुत बड़ी चुनौती होगी.

एफ़बीआई के निदेशक ने यह टिप्पणी खुफिया मामलों पर सीनेट की कमेटी में सुनाई के दौरान की.

उन्होंने कहा, ''यह हत्या, अपहरण और नशीले पदार्थों के मामलों की जांच कर रहे पुलिसकर्मियों, वकीलों, शैरिफ़ और जासूसों पर प्रभाव डालेगा.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिककर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकऔर ट्विटरपर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार