हत्या के बदले बहन की शादी

पाकिस्तान में बाल विवाह इमेज कॉपीरइट Getty

पाकिस्तान के पंजाब सूबे की एक पंचायत ने हत्या के एक अभियुक्त को हुक़्म दिया कि वह अपनी 10 साल की नाबालिग बहन की शादी पीड़ित के एक रिश्तेदार से कर दे.

पाकिस्तान में पारिवारिक विवाद सुलझाने के लिए समझौते के तहत ऐसी शादियां होती हैं. इसे 'वानी' कहते हैं. हालांकि यह ग़ैर कानूनी है.

पंजाब के रहीमयार ख़ान ज़िले में एक आदमी पर बीवी की हत्या करने का आरोप लगा और उसे पुलिस गिरफ़्तार कर ले गई.

बाद में गांव में बुज़ुर्गों की पंचायत बैठी. पंचायत ने फ़रमान दिया कि अभियुक्त अपनी 10 साल की बहन की शादी अपनी बीवी के 14 साल के रिश्तेदार से कर दे.

पंजाब पुलिस ने शादी रुकवा दी और इस सिलसिले में चार लोगों को गिरफ़्तार कर लिया.

इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption पाकिस्तान की स्कूली बच्चियां

पुलिस अफ़सर चौधरी यासिन ने बीबीसी से कहा कि इस मामले से जुड़े 20 लोगों की तलाश की जा रही है. ये दोनों ही परिवार हिंदू हैं.

इस्लामाबाद से बीबीसी संवाददाता एम इलियास ख़ान का कहना है कि पाकिस्तानी क़ानून के तहत यह प्रावधान है कि जिसकी हत्या होती है, उसका रिश्तेदार समझौता या पैसे के बदले हत्यारे को माफ़ कर सकता है.

पाकिस्तान में लड़कियों की शादी की उम्र 16 साल से बढ़ाकर 18 साल करने से जुड़ा एक विधेयक जनवरी में संसद में पेश किया गया था.

पर मजहबी संस्था इस्लामी विचार परिषद ने इसे 'ग़ैर इस्लामी' कहकर इसका विरोध किया. उसके बाद यह विधेयक वापस ले लिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार