'क़ादरी का बदला' लेने को हमला, 12 की मौत

  • 7 मार्च 2016
इमेज कॉपीरइट EPA

पश्चिमोत्तर पाकिस्तान के सब्क़दर शहर में हुए धमाके में कम से कम 12 लोग मारे गए हैं.

इस धमाके की ज़िम्मेदारी लेते हुए चरमपंथियों ने कहा कि ये धमाका मुमताज़ क़ादरी को फांसी पर चढ़ाने का 'बदला लेने के लिए' किया गया है.

वर्ष 2011 में पंजाब के गवर्नर सलमान तासीर की हत्या करने वाले उनके अंगरक्षक क़ादरी को पिछले हफ़्ते फांसी दे दी गई, जिसका कई कट्टरपंथी संगठनों ने विरोध किया.

ईशनिंदा क़ानून के आलोचक तासीर की हत्या करने वाले क़ादरी को कट्टरपंथी एक नायक समझते हैं.

पुलिस ने स्थानीय मीडिया को बताया कि सोमवार को धमाका सब्क़दर में एक अदालत के गेट के पास हुआ जिसमें आठ लोगों के मौत और 30 लोग घायल हुए हैं.

सब्क़दर पाकिस्तानी के क़बाइली इलाक़े मोहमंद एजेंसी के पास है.

तहरीक-ए-तालिबान से टूट कर बने गुट जमात-उल-अहरार के प्रवक्ता ने 'एक्सप्रेस ट्रिब्यून' अख़बार को बताया, "हमारा निशाना अदालत और जज थे क्योंकि वो इस्लाम विरोधी हैं."

उन्होंने कहा कि 'ये हमला क़ादरी को दी गई फांसी का बदला है'.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार