राष्ट्रपति उम्मीदवारों में 'इस्लाम' पर ठनी

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार मार्को रूबियो ने 'इस्लाम' पर अपनी ही पार्टी के अन्य उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप के बयान की आलोचना की है.

मियामी में टेलीविजन बहस में रूबियो ने ट्रंप के उस बयान पर ज़ोरदार हमला बोला जिसमें उन्होंने कहा था कि इस्लाम अमरीका से नफ़रत करता है.

रूबियो ने कहा, "इस्लाम के साथ उग्रता की समस्या है, लेकिन कई मुसलमान हमारे सम्मानित नागरिक हैं."

मंगलवार को फ्लोरिडा के चुनाव में रूबियो के सामने करो या मरो की स्थिति है.

श्रोताओं का उत्साह बढ़ाते हुए उन्होंने कहा, "राष्ट्रपति जो चाहे, वो नहीं बोल सकते. इसका असर पड़ता है."

चारों रिपब्लिकन उम्मीदवारों ने पार्टी नेताओं के सार्वजनिक बहस के आग्रह को माना है.

इमेज कॉपीरइट Getty

इस बार की ये टीवी बहस बीते सप्ताह की बहस जैसी नहीं थी. ये व्यक्तिगत अपमान नहीं, बल्कि मौलिक और नीतियों पर केंद्रित रही.

लेकिन इस्लाम के मुद्दे पर ट्रंप और अन्य उम्मीदवारों में काफी मतभेद हैं.

ट्रंप इस्लाम पर दिए गए अपने पहले बयान पर अड़े रहे. उन्होंने कहा कि वह सोचते हैं कि इस्लाम हमसे नफरत करता है, वहां हमारे लिए काफी नफ़रत हैं. इसके निपटने के लिए उन्होंने राजनीतिक तरीका अपनाने पर जोर दिया.

उधर, रूबियो ने कहा, "मैं राजनीतिक रूप से सही होने में दिलचस्पी नहीं रखता, मेरी दिलचस्पी सही होने में है."

इमेज कॉपीरइट Getty

मंगलवार को अमरीका के पांच बड़े राज्यों में प्रत्येक पार्टी से राष्ट्रपति पद के पसंदीदा उम्मीदवारों का चुनाव होगा.

हालाँकि अब ये साफ़ हो गया है कि ट्रंप को छोड़कर रिपब्लिकन पार्टी के अन्य प्रत्याशियों के पास विचारों की कमी है और उनके पास ट्रंप के अभियान को रोकने की स्पष्ट रणनीति नहीं है.

बीते सप्ताह बहस के बाद राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी से बेन कारसन के बाहर होने से ट्रंप को बढ़त मिल गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार