उत्तर कोरिया ने फिर दागीं मिसाइलें

  • 18 मार्च 2016
इमेज कॉपीरइट Reuters

दक्षिण कोरियाई और अमरीकी अधिकारियों ने दावा किया है कि उत्तर कोरिया ने समुद्र में लंबी दूरी की एक बैलेस्टिक मिसाइल छोड़ी है.

अधिकारियों के मुताबिक़, मिसाइल उत्तर कोरिया के पूर्वी तट से छोड़ी गई. मिसाइल ने 800 किलोमीटर उड़ान भरी और उसके बाद समुद्र में गिर पड़ी.

अमरीकी रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि दूसरी मिसाइल भी छोड़ी गई है.

उत्तर कोरिया ने अमरीका और दक्षिण कोरिया की इन ख़बरों पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

दक्षिण कोरियाई समाचार एजेंसी योनहाप के मुताबिक़, दूसरी मिसाइल मध्यम दूरी की रोडोंग मिसाइल थी, जिसे सड़क पर चलने वाली किसी गाड़ी से छोड़ा गया.

रोडोंग की मारक क्षमता 1,300 किलोमीटर की है और इसकी ज़द में दक्षिण कोरिया और जापान के कुछ हिस्से आ सकते हैं.

अमरीकी रक्षा विभाग की लेफ़्टीनेंट कर्नल मिशेल बेलडांज़ा ने कहा, "हम उत्तर कोरिया से उन कार्रवाइयों से बचने की अपील करते हैं, जिनसे इलाक़े में तनाव और बढ़ सकता है."

इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाने का एक कार्यकारी आदेश जारी किया था.

इमेज कॉपीरइट EPA KCNA

यह आदेश उत्तर कोरिया की अोर से 6 जनवरी 2016 को किए गए कथित 'अनुचित' नाभिकीय परीक्षण और 7 फरवरी के सैटेलाइट लॉन्च के बाद जारी किया गया.

इसके साथ ही अमरीका में उत्तर कोरिया सरकार की संपत्ति ज़ब्त हो जाएगी.

इसके अलावा उत्तर कोरिया में अमरीकी निवेश और वहां से किसी तरह के आयात पर भी प्रतिबंध लगा दिया जाएगा.

उत्तर कोरिया से संबंध रखने पर ग़ैर अमरीकियों समेत किसी भी व्यक्ति को ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट Reuters

दूसरी ओर, उत्तर कोरिया में राज्य के ख़िलाफ़ अपराध करने के आरोप में अमरीकी छात्र आटो वांबियर को 15 साल के सश्रम कारावास की सज़ा सुनाई गई. इससे दोनों देशों में तनाव बढ़ गया है.

अमरीका ने आटो वांबियर की तुरंत रिहाई की मांग की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार