'चरमपंथ से लड़ने का इरादा पक्का हुआ'

लाहौर इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने कहा है कि चरमपंथ से लड़ने का पाकिस्तान का इरादा और मज़बूत हो गया है.

रविवार को लाहौर के एक पार्क में ईस्टर के मौके पर एक कार्यक्रम पर आत्मघाती हमला हुआ था जिसमें 70 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई थी, इनमें 22 बच्चे और कई महिलाएं भी हैं.

हमले में तीन सौ लोग घायल हुए थे.

इमेज कॉपीरइट EPA

अस्पताल में घायलों से मिलने पहुंचे नवाज़ शरीफ़ ने कहा चरमपंथ को हराना ज़रूरी हो गया है.

उन्होंने कहा," मुल्क और सरकार के तौर पर हमारा चरमपंथ से लड़ने का निश्चय मज़बूत हो रहा है और कायर दुश्मन मासूम लोगों को शिकार बना रहा है."

इमेज कॉपीरइट EPA

सुरक्षा अधिकारियों के साथ बैठक के बाद नवाज़ शरीफ़ ने कहा कि आत्मघाती हमले की जांच के लिए सुरक्षा एजेंसियों के बीच बेहतर तालमेल होना चाहिए.

इस बीच अब तक सुरक्षा एजेंसियों ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है और पांच जगहों पर छापे मारकर सेना ने बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किए हैं.

सेना के प्रवक्ता जनरल असीम बाजवा ने ट्वीट कर जानकारी दी कि लाहौर, मुल्तान और फ़ैसलाबाद में छापेमारी की है.

पाकिस्तान तालिबान के सहयोगी गुट जमात-उल-अहरार ने कहा है कि हमले की ज़िम्मेदारी ली थी.

जमात-उल-अहरार ने कहा था कि ये हमला ईसाई त्यौहार ईस्टर के मौके पर ईसाई समुदाय को निशाना बनाकर किया गया है.

इमेज कॉपीरइट EPA

सोमवार को एक बच्चे साहिल परवेज़ को दफनाया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार