गूगल स्टोर ने हटाया तालिबान का ऐप

तालिबान इमेज कॉपीरइट Getty

गूगल प्ले स्टोर से इस्लामी चरमपंथी समूह तालिबान का ऐप 'आलमराह' हटा दिया गया है.

चरमपंथी समूह ने ये ऐप एंड्रॉयड फोन के लिए बनाया था. इस ऐप में मौजूद सामग्री पश्तो भाषा में है.

इसमें अफ़ग़ानिस्तान में समूह की गतिविधियों से जुड़े चरमपंथियों के बयान और वीडियो भी शामिल हैं. इसे एक अप्रैल को लॉन्च किया गया था.

जब लॉन्च होने के कुछ ही देर बाद ये ऐप प्ले स्टोर पर नज़र नहीं आया तो चरमपंथी समूह ने इसके लिए 'तकनीकी कारणों' को जिम्मेदार बताया था.

इसकी जानकारी अमरीका स्थित संगठन साइट इंटेल ग्रुप ने दी थी. ये ग्रुप जिहादी गतिविधियों पर नज़र रखता है.

हालांकि, बीबीसी का मानना है कि इस ऐप को हटाने की वजह गूगल ऐप पॉलिसी का उल्लंघन है जो नफ़रत फैलाने वाली बातों को प्रसारित करने की इजाज़त नहीं देती है.

गूगल ने इस मुद्दे पर कुछ कहने से इंकार किया है.

गूगल की ओर से जारी बयान में कहा गया है, "हमारी नीतियां उपभोक्ताओं और डेवलपर्स को बेहतर अनुभव देने के लिए तैयार की गई हैं. यही वजह है कि हम इन नीतियों का पालन नहीं करने वाले ऐप को गूगल प्ले से हटा देते हैं."

वहीं तालिबान के एक प्रवक्ता ने ब्लूमबर्ग को बताया कि ये ऐप उनके दुनिया भर के लोगों तक पहुंचने के आधुनिक तकनीकी प्रयासों का हिस्सा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार