पहले बेटी और अब बेटे के क़त्ल के लिए क़ैद

  • 16 अप्रैल 2016
डनफर्ड इमेज कॉपीरइट Eddie Mitchell

ब्रिटेन में बेटी के क़त्ल के दोष में जेल काट रही मां को अब अपने सात माह के बेटे की हत्या के लिए सज़ा सुनाई गई है.

सात महीने के हर्ले डनफर्ड का शव 2003 में ईस्ट ससेक्स में उनके घर पर मिला था.

37 साल की लेस्ली डनफर्ड ने मार्च में अपना गुनाह क़बूल कर लिया था.

लेस्ली को 2012 में अपनी तीन साल की बेटी की हत्या का दोषी पाया गया था और उन्हें सात साल की जेल हुई थी.

अब बेटे की हत्या की बात सामने आने के बाद उन्हें आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई गई है.

इमेज कॉपीरइट Sussex Police

बेटी लूसी की हत्या की सज़ा काट रही लेस्ली ने जेल में ये क़बूल किया कि उसने अपने बेटे की भी हत्या की थी जिसका उसे पछतावा है.

उसने जेल अधिकारियों को बताया कि उसने जो किया उसकी यादें और बुरे सपने उसे सता रहे हैं.

क़बूलनामे में उसने लिखा है, ''मेरे दिमाग़ में कुछ आया, मैं कमरे में वापस गई और उसके बिस्तर तक गई, उसके चेहरे को मैट्रेस से तब तक दबाया जब तक उसने सांस लेना बंद नहीं किया.''

"फिर मैंने देखा कि उसकी नाक से ख़ून और फ़ोम आ रहा था. तब मुझे पता चला कि मैंने उसे चोट पहुंचाई है. मुझे नहीं पता मैंने ऐसा क्यों किया.''

बेटे हर्ले की मौत को पहले प्राकृतिक समझा गया था.

लेस्ली के पति ने कहा कि वो उसे माफ़ करते हैं हालांकि लेस्ले ने अपने बच्चों के बारे में उनसे झूठ बोला था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार