भूमध्य सागर में नौका डूबी, '500 लोगों की मौत'

एसओएस मेडिटेरेनी इमेज कॉपीरइट SOS Mediterranee

भूमध्य सागर में प्रवासियों से भरी नाव हादसे के बचे लोगों का कहना है कि मानव तस्कर जिस नाव से उन्हें स्थानांतरित कर रहे थे वह डूब गई है.

हादसे में बचे 41 प्रवासियों ने बीबीसी से बात की. वे मुख्य रूप से पूर्वी अफ्रीका से हैं और उन्हें फिलहाल दक्षिणी ग्रीस के शहर कालामाटा में रखा गया है.

उन्होंने बताया कि हादसे में लगभग 500 लोगों की मौत हुई है. लेकिन इस हादसे की आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है.

इससे पहले एक अन्य हादसे के बाद लीबिया के तट पर 6 प्रवासियों के शव पाए गए हैं.

यह हाल के सालों में प्रवासियों से भरी नाव के डूबने का सबसे बड़ा हादसा हो सकती है, लेकिन न तो इतालवी और न ग्रीस तटरक्षक बलों ने इसकी पुष्टि की है.

संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने ट्वीट किया है कि यह जानकारी सही नहीं लग रही है.

मिस्र में रहने वाली एक सोमाली महिला ने बीबीसी सोमाली सेवा को बताया कि गुरुवार को यूरोप के लिए निकले उसके तीन रिश्तदारों की मौत हो गई है.

हादसे की ख़बरों के बाद सोमालिया और ख़ुद को स्वतंत्र घोषित कर चुके सोमालीलैंड गणराज्य के राष्ट्रपतियों ने हादसे पर संवेदना व्यक्त की है.

यूरोपीय संघ की सीमा एजेंसी फ्रंटेक्स ने कहा है कि पिछले माह लगभग 10,000 लोगों ने इटली जाने की कोशिश की. साल 2015 में ये तादाद महज़ 2500 थी.

पिछले साल इसी दौरान लीबिया और लाम्पडूसा द्वीप के बीच प्रवासियों की एक नाव डूब गई थी जिसमें लगभग 800 लोग मारे गए थे.

संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक 1,80,000 लोग इस साल यूरोप जाने की कोशिश कर चुके हैं जिनमें से 800 लोगों की मौत हो गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार