सरकारी विधेयक की हार ने दिया चुनाव को न्योता

इमेज कॉपीरइट EPA

आॅस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल के अनुसार दो जुलाई तक देश में आम चुनाव हो जाएंगे.

'डबल डिसलूशन' ने सरकार को आम चुनाव की तैयारी करने का मौक़ा दे दिया है.

इसीलिए टर्नबुल ने बजट पास होने के बाद दो जुलाई तक देश में चुनाव कराने की अपनी इच्छा का सार्वजनिक तौर पर इज़हार कर दिया.

आॅस्ट्रेलिया के संविधान के मुताबिक़ डबल डिसलूशन वो प्रक्रिया है जिसके तहत सरकार किसी विधेयक के सिनेट में दो बार ख़ारिज या अटक जाने पर चुनाव कराए जाने की मांग कर सकती है.

सोमवार को आॅस्ट्रेलियाई संसद के उच्च सदन सिनेट ने सरकार द्वारा प्रस्तावित विधेयक को दोबारा ख़ारिज कर दिया.

इमेज कॉपीरइट EPA

सिनेट के इस क़दम के बाद अब टर्नबुल संसद के दोनों सदनों को भंग करने के लिए गर्वनर जनरल से मांग करेंगे.

टर्नबुल ने एक प्रेस कांफ्रेंस में आम चुनाव कराए जाने की तस्दीक़ करते हुए कहा कि वह गर्वनर जनरल से तीन मई को बजट पास होने के बाद 'डबल डिसलूशन' की मांग रखेंगे. टर्नबुल ने इस डबल डिसलूशन को लोगों को अपनी राय रखनें का मौक़ा बताते हुए कहा कि, 'अब साफ़ हो चुका अगर प्रतिनिधि सदन और सेिनेट में सहमति नहीं बनती है तो बेहतर होगा कि हम सब चुनाव में उतरें और लोग तय करें क्या सही है. और मुझे पूरा भरोसा है कि हम यह चुनाव जीतेंगे. जीतने के बाद हम अपने सुधार कार्यक्रम जारी रखेंगे. हम पंजीकृत संगठनों से जुड़े क़ानून में सुधार लाएंगे. यही नहीं हम आॅस्ट्रेलियन बिल्डिंग एंड कन्स्ट्रक्शन कमीशन को क़ानूनी जामा पहनाएंगे.'

इमेज कॉपीरइट AP

टर्नबुल के इस बयान से पहले विपक्ष के नेता बिल शार्टन पार्टी पदाधिकारियों की एक बैठक में यह कहते सुने गए कि, 'सरकार के पास टर्नबुल की लोकप्रियता को भुनाने के अलावा और कुछ भी नहीं हैं. वह गृह युद्ध का सामना करने जा रहे हैं. उन्हें बस इतना चुनना है कि वह इस लड़ाई को सरकार में रहकर या फिर विपक्ष में बैठ कर लड़ना चाहते हैं.'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार