मित्सुबिशी ने गाड़ियों के माइलेज पर 'झूठ' बोला

  • 20 अप्रैल 2016
मित्सुबीशी इमेज कॉपीरइट AFP

जापान की मशहूर मोटरकार कंपनी मित्सुबिशी ने ईंधन खर्च के बारे में गलत दावे करने की बात कबूली है. इस दावे पर जापान में 6 लाख से ज़्यादा गाड़ियां बेची गईं.

कंपनी ने स्वीकार किया है कि टायरों में हवा के दबाव के बारे में गलत जानकारी दे कर उसके कर्मचारियों ने गाड़ियों की माइलेज से लोगों को लुभाया गया.

मित्सुबिशी ने इनमें से करीब चार लाख सत्तर हज़ार गाड़ियां निसान कंपनी के लिए बनाई थी. निसान ने ही इस गड़बड़ी की पहचान की. गलती मानने के बाद जापान में मित्सुबिशी के शेयरों के भाव 15 फ़ीसदी घट गए.

इमेज कॉपीरइट Reuters

बुधवार को कंपनी के अध्यक्ष टेटसुरो आइकावा ने प्रेस कांफ्रेंस में अपना सिर झुका कर गलती मानी.

उन्होंने कहा,’’गलती जान बूझ कर की गई थी. ये साफ़ है कि जालसाज़ी माइलेज को बेहतर दिखाने के लिए की गई. लेकिन इस धोखाधड़ी का सहारा क्यों लिया गया ये अब भी साफ़ नहीं है.’’

हालांकि आइकावा को इस बारे में जानकारी नहीं थी लेकिन उन्होंने कहा, "मैं जिम्मेदारी महसूस करता हूं."

बीते साल इसी तरह के मामले में जर्मनी की कार कंपनी फॉक्सवैगन भी फंसी थी और उसे भारी नुकसान उठाना पड़ा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए