पाकिस्तान सेना ने अपने छह बड़े अफ़सर निकाले

राहिल शरीफ इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तान की सेना ने अपने छह बड़े अफसरों को भ्रष्टाचार के आरोप में नौकरी से निकाल दिया है.

सैन्य सूत्रों को मुताबिक़ जिन छह अफ़सरों को नौकरी से निकाला गया है उनमें लेफ्टिनेंट जनरल उबैदुल्लाह खटक, मेजर जनरल एजाज शाहिद, ब्रिगेडियर असद शहजादा, ब्रिगेडर आमिर, ब्रिगेडियर सैफ और कर्नल हैदर शामिल हैं.

नौकरी से बर्खास्त किए जाने वाले सभी अफसरों का संबंध फ्रंटियर कोर बलूचिस्तान से बताया गया है.

जबरन रिटायर किए जाने पर उन्हें दी जाने वाली तमाम सुविधाएं भी वापस ले ली गई हैं.

इमेज कॉपीरइट ISPR

बर्खास्त अफसरों में लेफ्टिनेंट जनरल उबैदुल्लाह खटक और मेजर जनरल एजाज शाहिद बलूचिस्तान में फ्रंटियर कोर के आईजी के पद पर रह चुके हैं.

उबैदुल्लाह खटक जिस जमाने में आईजी फ्रंटियर कोर थे तो उन्हें सुप्रीम कोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस इफ्तेखार मोहम्मद चौधरी ने बलूचिस्तान में भ्रष्टाचार के मुकदमे में अदालत में पेश न होने पर अदालती अवमानना के लिए कारण बताओ नोटिस दिया था.

बर्खास्त किए जाने वाले ब्रिगेडियर रैंक के अफसरों के नाम असद, हैदर, सैफुल्लाह और आमिर बताए गए हैं.

सैन्य सूत्रों के मुताबिक बर्खास्त किए गए अफसरों पर फिलहाल लगे आरोपों का ब्योरा नहीं दिया गया है.

इन अफसरों की बर्खास्तगी एक ऐसे मौके पर हुई है जब हाल ही में पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल राहिल शरीफ ने कहा था कि सशस्त्र सेना देश में हर सतह पर जवाबदेही को मुमकिन बनाने के लिए कदम उठाने की हिमायत करेंगी.

इनका ये भी कहना था कि दहशतगर्दी के ख़ात्मे के साथ-साथ भ्रष्टाचार को खत्म किए बगैर देश में शांति और स्थिरता मुमकिन नहीं है.

उनके इस बयान के बाद राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की ओर से दबी जुबान में सेना में भी जवाबदेही की बात की गई थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार