लादेन की मौत के लाइव-ट्वीट पर हंगामा

  • 2 मई 2016
इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी सीआईए के चरमपंथी संगठन अल-क़ायदा के नेता ओसामा बिन लादेन की मौत को लाइव ट्वीट करने के क़दम की जमकर निंदा हो रही है.

ओसामा बिन लादेन दो मई 2011 को पाकिस्तान के ऐबटाबाद में अमरीकी सेना के एक गु्प्त अभियान में मारे गए थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

लादेन की मौत को सोमवार को पांच साल पूरे हो गए हैं.

दरअसल सीआई ने इस मौक़े पर एक ट्वीट कर पांच साल पहले अमरीका के मोस्ट वांटेड शख़्स को पकड़ने के लिए बनाए गए मिशन और ख़ुफ़िया जानकारी को साझा किया.

सीआईए के इस ट्वीट पर लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया आई है. एक ट्विटर यूज़र ने इस क़दम को "अजीब और शर्मनाक" बताया है.

वहीं जेफ़ कोनिन कहते हैं कि लादेन की 5वीं बरसी को मनाने के लिए यह सब करना एकदम बकवास है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

सीआईए की जिस ट्वीट में अमरीकी दस्ते की सैन्य कार्रवाई को लाइव ट्वीट करने की योजना के बारे में बताया गया उसे ट्विटर पर 2,000 से भी अधिक बार लाइक किया गया है.

सीआईए ने अपने ट्विटर हैंडल @CIA से ट्वीट किया है, "ओसामा बिन लादेन की मौत की पांचवीं बरसी पर ऐबटाबाद में हुई कार्रवाई को हम ऐसे ट्वीट करेंगे मानों वह सब आज ही हुआ हो."

सोशल मीडिया पर कुछ लोग सीआईए के इस क़दम से ख़ुश दिखे.

मैरी फ्रैंक ने अपने ट्विटर हैंडल @ Fran_Neena20409 से ट्वीट किया, "हमलोगों के लिए यह सब करने के लिए प्यारे देशभक्तों का शुक्रिया."

तो वहीं बीगेलडो एम. ने @BegheldoM ट्वीट किया, "गुड जॉब!"

सऊदी अरब के एक धनी परिवार में दस मार्च 1957 में पैदा हुए ओसामा बिन लादेन, अमरीका पर 9/11 के हमलों के बाद दुनिया भर में चर्चा में आए.

कहा जाता है कि लादेन ने ही इस हमले के आदेश दिए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार