ईयू से अलग हुए तो शांति को ख़तरा: कैमरन

  • 9 मई 2016
डेविड कैमरन इमेज कॉपीरइट AFP

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने चेतावनी दी है कि अगर उनका देश यूरोपीय यूनियन छोड़ने के पक्ष में वोट देता है तो इससे यूरोप की शांति पर ख़तरा हो सकता है.

प्रधानमंत्री कैमरन ने कहा कि यूरोपीय यूनियन ने देशों के बीच सामंजस्य और शांति बनाए रखने में अहम भूमिका निभाई है और ब्रिटेन पहले भी यूरोप को नज़रअंदाज करने को लेकर अफ़सोस जता चुका है.

कैमरन ने सवाल किया कि क्या यूरोपीय यूनियन को छोड़ना वाकई ऐसा जोखिम है, जिसे मोल लिया जा सकता है?

वहीं ईयू छोड़ने के पक्ष में प्रचार करने वालों का कहना है कि ब्रिटेन यूरोपीय यूनियन नहीं बल्कि नाटो के कारण सुरक्षित है. उन्होंने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया कि वो भटक रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

लंदन के पूर्व मेयर बोरिस जॉनसन ने कहा कि यूरोपीय यूनियन का अलोकतांत्रिक रवैया अस्थिरता और अलगाव की भावना की वजह है.

यूरोपीय यूनियन से अलग होने के लिए मतदान करने की अपील करने वालों का कहना है, "दोबारा वार्ता के वक्त प्रधानमंत्री ने कहा था कि वो किसी भी संभावना को खारिज नहीं कर रहे हैं. अभी उनका मानना कि ईयू को छोड़ने से युद्ध का ख़तरा है. क्या बदल गया है?"

अपनी चेतावनी के बावजूद कैमरन जनमत संग्रह के फैसले का बचाव करते हैं. उन्होंने बीबीसी से कहा, "आपको किसी स्वतंत्र संप्रभु देश को उसकी इच्छा के खिलाफ एक संगठन में रखने की कोशिश नहीं करनी चाहिए."

आगामी 23 जून को ब्रिटेन में जनमतसंग्रह होना है जो ये तय करेगा कि वो यूरोपीय यूनियन का हिस्सा रहेगा या नहीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार