हील न पहनने पर रिसेप्शनिस्ट को वापस भेजा

  • 12 मई 2016
इमेज कॉपीरइट ALAMY

लंदन की एक रिसेप्शनिस्ट को ऊंची एड़ी की सैंडल पहनने से मना करने पर अॉफ़िस से घर भेज दिया गया.

हेकनी की 27 वर्षीय अस्थाई कर्मचारी निकोला थ्रोप को फाइनेंस कंपनी पीडब्ल्यूसी पहुंचने पर उनसे कहा गया कि उन्हें दो से चार इंच की ऊंची एड़ी के जूते पहनने पड़ेंगे.

जब उन्होंने इससे इंकार किया और शिकायत की कि उनके पुरुष साथियों को ऐसा ही करने के लिए नहीं कहा गया, तो उन्हें बग़ैर वेतन के घर भेज दिया गया.

इमेज कॉपीरइट Nicola Thorp

आउटसोर्सिंग फ़र्म पोर्टिको ने कहा कि थ्रोप ने "वेशभूषा दिशा-निर्देशों पर हस्ताक्षर किए" लेकिन अब वे उनकी समीक्षा करेंगे.

पीडब्ल्यूसी ने कहा कि ड्रेस कोड "पीडब्ल्यूसी की पॉलिसी नही " थी.

निकोला ने कहा कि उन्हें ऊंची एड़ी की सैंडल में पूरे दिन काम करने में कठिनाई होगी और वह स्मार्ट फ़्लैट जूते पहनने के लिए पूछ चुकी थी.

इमेज कॉपीरइट Nicola Thorp

लेकिन इसकी जगह बीते दिसंबर अॉफ़िस के पहले दिन उन्हें कहा गया कि उन्हें जाना चाहिए और अपने लिए एक जोड़ी ऊंची एड़ी की सैंडल ख़रीदनी चाहिए.

उन्होंने बीबीसी को बताया कि "मैंने कहा क्या तुम मुझे एक भी कारण बता सकते हो कि फ़्लैट पहनने से कैसे में आज इस जॉब को करने लायक़ नहीं होंगी, तब आप सही हो', लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके."

इमेज कॉपीरइट GOOGLE

तब से ही उन्होंने एक याचिका डाल कर क़ानून परिवर्तित करने को कहा है जिससे कि महिलाओं को काम की जगह में ऊँची एड़ी के जूते पहनने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है.

इस याचिका पर यह 10,000 से अधिक हस्ताक्षर हुए हैं, इसलिए सरकार को अब जवाब देना होगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार