अमरीकी हमले में तालिबान प्रमुख मंसूर की मौत

इमेज कॉपीरइट AFP

अफ़ग़ानिस्तान की ख़ुफिया एजेंसी ने तालिबान नेता मुल्ला अख़्तर मंसूर के एक अमरीकी ड्रोन हमले में मारे जाने की पुष्टि कर दी है.

यह ड्रोन हमला शनिवार को पाकिस्तान-अफ़ग़ानिस्तान की सीमा के पास मुल्ला मंसूर की गाड़ी पर किया गया था.

अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने कहा है कि मुल्ला अख़्तर मंसूर अमरीकी अधिकारियों के लिए 'लगातार और गंभीर ख़तरा' बना हुआ था. मुल्ला मंसूर पिछले साल जुलाई से आधिकारिक रूप से तालिबान का नेतृत्व कर रहे थे.

अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान की सरकारों को इस अभियान की जानकारी मिसाइल हमले के बाद दी गई.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अमरीकी रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक हमले में एक और लड़ाके की मौत हुई है, वो और मंसूर एक ही वाहन में सवार थे.

मुल्ला मंसूर ने बीते साल जुलाई में मुल्ला मोहम्मद उमर की जगह अफ़ग़ान तालिबान की कमान संभाली थी.

बीते साल ये ख़बर आई थी कि पाकिस्तान में चरमपंथियों की मीटिंग के बाद हुई गोलीबारी में वो बुरी तरह घायल हो गए थे.

तालिबान प्रमुख के तौर पर उनकी नियुक्ति विवादों में थी. विरोधी गुट ने अपना अलग नेता घोषित कर दिया था.

पेंटागन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि मंसूर हमलों की योजना बनाने में सक्रिय तौर पर भागीदार थे.

बयान में कहा गया, "वो अफ़गानिस्तान के आम लोगों, सुरक्षा बलों, हमारे जवानों और गठबंधन के सहयोगियों के लिए ख़तरा थे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार