पहनें वो लिबास जो निखारे आपकी शख़्सियत

इंटरव्यू के लिए कपड़े इमेज कॉपीरइट Alamy

नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जाते वक़्त अक्सर लोग डरे हुए होते हैं. क्या सवाल पूछे जाएंगे? कौन से लोग मिलेंगे? नौकरी मिलेगी या नहीं? घबराए हुए दिल-दिमाग़ में यही सवाल घूम रहे होते हैं. बड़े से बड़े फन्ने ख़ां भी नौकरी के इंटरव्यू के नाम पर घबरा जाते हैं.

एक बड़ा मसला ये भी होता है कि इंटरव्यू के लिए जाते वक़्त क्या पहनें? पहले का दौर आसान था. इंटरव्यू के लिए लोग गहरे रंग के सूट पहनकर जाते थे. इंटरव्यू का ये लिबास कमोबेश तय था.

मगर अब वक़्त बहुत बदल गया है. कॉरपोरेट दुनिया में इंक़लाबी तब्दीली आ गई है. ऐसे में ये सवाल और मुश्किल हो गया है कि इंटरव्यू के लिए जाते वक़्त क्या पहनकर जाएं?

कॉरपोरेट नौकरियां दिलाने वाली एक अमरीकी कंपनी 'प्रोफ़ेशनल स्टाफ़िंग ग्रुप' के रीड एलिस एक क़िस्सा याद करते हैं. उनके यहां एक शख़्स इंटरव्यू देने आया था. उसने सामने से खुले एडिडास के सैंडल, जुराबों के साथ पहन रखे थे. उसने चुस्त, कैप्री जैसी छोटी सी पतलून पहनी हुई थी. साथ ही इस शख़्स ने बदन से एकदम चिपकी हुई चेक वाली कमीज़ पहन रखी थी, जिसके ऊपर के बटन इतने खुले हुए थे कि सीने के बाल दिख रहे थे.

इमेज कॉपीरइट Alamy

उसके बात करने का अंदाज़ रीड एलिस को बहुत पसंद आया. उसकी क़ाबिलियत पर भी एलिस को ऐतबार था. मगर दिक़्क़त थी उसका लिबास. नौकरी का इंटरव्यू देने गए किसी भी शख़्स के लिए ये लिबास ठीक नहीं था. लिहाजा, उसे नौकरी नहीं दी गई.

रीड एलिस कहते हैं कि नौकरी के लिए आए किसी शख़्स का पहला असर उसके पहनावे से ही पड़ता है. बाक़ी सवाल-जवाब तो बाद में होते हैं.

पहले लोग इंटरव्यू के लिए सूट पहनकर जाते थे. मगर अब तो ज़्यादातर नौकरियों में लोग जींस-शर्ट पहनकर जाते हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters

फ़ेसबुक के प्रमुख मार्क ज़ुकरबर्ग तो अपनी ट्रेडमार्क ग्रे टी शर्ट के लिए ही मशहूर हैं. आज तो आप बड़ी से बड़ी कंपनी के इंटरव्यू के लिए भी सूट पहनकर पहुंच गए तो आपके बारे में लोग ग़लत राय कायम कर सकते हैं.

तो फिर, सवाल ये है कि हम आख़िर पहनें तो क्या? इसका जवाब तलाशने के लिए हमने पांच एक्सपर्ट्स की राय ली.

लंदन की आईटी भर्ती कंपनी एम्पिरिक के निदेशक स्टीव ब्राउन कहते हैं कि इंटरव्यू के लिए जाने से पहले पूरी पड़ताल कर लीजिए. अगर आप किसी भर्ती कंपनी के ज़रिए जा रहे हैं, तो उस कंपनी से ही पता लगाइए. या फिर, जहां इंटरव्यू देने जा रहे हैं, वहां के किसी कर्मचारी से भी आप मशविरा कर सकते हैं.

वैसे स्टीव तो ये भी सलाह देते हैं कि जो शख़्स आपका इंटरव्यू लेने वाला हो, आप सीधे उसी से बात कर सकते हैं. स्टीव ब्राउन कहते हैं कि बेहतर होगा कि आप ऐसा लिबास चुनें जो आपकी शख़्सियत को और निखारे. आपको एक दर्जा ऊपर करके पेश करे. जैसे कि अगर कंपनी का माहौल जींस-टी शर्ट वाला हो तो आप चिनोज़ के साथ कमीज़ पहनकर जा सकते हैं.

इंग्लैंड के लेखक जॉन लीस, जिन्होंने 'हाऊ टू गेट अ जॉब यू लव' नाम से क़िताब लिखी है, वो कहते हैं कि पहले आप ख़ुद से सवाल कीजिए. आप ख़ुद को कैसे पेश करना चाहते हैं? सिर्फ़ अच्छा दिखने की बात नहीं है. आप उस कंपनी में नौकरी करने से पहले ही वहां के कर्मचारियों जैसे दिखना चाहते हैं. या फिर और भी स्मार्ट?

इमेज कॉपीरइट iStock

जॉन लीस ये भी सलाह देते हैं कि इंटरव्यू के लिए जाएं तो अपना कोट और बैग, रिसेप्शन पर ही छोड़ दें. सिर्फ़ एक छोटी सी फ़ाइल लेकर जाएं. ऐसे में आप कंपनी के कर्मचारी सरीखे ही दिखेंगे.

प्रोफ़ेशनल स्टाफिंग ग्रुप के ग्वेंडोलेन आंद्रे कहती हैं कि इंटरव्यू में ख़ुद को एक दर्जा ऊपर उठा कर पेश करना बेहतर होगा. उनकी एक ग्राहक आईटी कंपनी है, जिसमें कोई भी फॉर्मल कपड़े नहीं पहनता. सभी कर्मचारी अपने रोज़मर्रा के लिबास में ही दफ़्तर आते हैं. ऐसे में किसी भी नए कर्मचारी के लिए वहां के माहौल जैसा दिखना मुश्किल होगा.

इसीलिए वो मर्दों और महिलाओं दोनों को सलाह देती हैं कि इंटरव्यू के लिए जाते वक़्त जैकेट या स्वेटर डाल लें. इसके साथ बो टाई या नेकलेस ले सकते हैं.

अमरीका की ही एक और एक्सपर्ट, गैब्रिएल रॉसी कहती हैं कि जींस पहनकर इंटरव्यू देने कभी मत जाइए. ख़ुद रोसी के दफ़्तर में लोग कैज़ुअल ड्रेस में ही नौकरी करने आते हैं. मगर वो उम्मीद करती हैं कि इंटरव्यू देने आने वाला शख़्स जींस, टी-शर्ट, शॉर्ट्स या स्नीकर्स पहनकर न आए.

रॉसी ने पिछले साल बीस लोगों का इंटरव्यू लिया. कइयों को उन्होंने जींस पहनकर आने की वजह से नौकरी नहीं दी. तो, कुछ लोगों को च्यूइंग गम खाने की वजह से. किसी को ज़्यादा दिखावा करने की वजह से ख़ारिज कर दिया तो किसी को ज़्यादा चुस्त कपड़ों की वजह से.

वो एक नुस्खा बताती हैं. आप ख़ुद से सवाल कीजिए, डिनर के लिए बाहर जाना है तो आप क्या पहनेंगे? इस सवाल का जो जवाब होगा, वही लिबास पहनकर इंटरव्यू देने जाना बेहतर होगा.

इमेज कॉपीरइट iStock

एक और अमरीकी एक्सपर्ट जेनिफर मेडिरोस कहती हैं कि इंटरव्यू के लिए जाएं तो ख़ुद को एक दर्जा ऊपर करके पेश करें. वो कहती हैं कि उनकी कंपनी में कई लोग जींस टी-शर्ट पहनकर आए, तो भी उन्हें नौकरी मिल गई. फिर भी वो किसी को जींस-टी शर्ट में इंटरव्यू देने जाने के लिए नहीं कहेंगी.

जेनिफर कहती हैं कि सूट पहनकर इंटरव्यू देने जाने में कोई बुराई नहीं. इससे ये संदेश जाता है कि कोई शख़्स नौकरी के लिए थोड़ी ज़्यादा कोशिश करने को भी राज़ी है. इसके मुक़ाबले, कैज़ुअल कपड़े पहनकर आने वाले के बारे में ग़लत राय कायम हो सकती है.

तो, कुल मिलाकर, सलाह यही है कि आप मौक़े और ज़रूरत के हिसाब से इंटरव्यू का लिबास तय करें. किसी बंधी-बंधाई लीक पर चलने की ज़रूरत नहीं.

(अंग्रेजी में मूल लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें, जो बीबीसी कैपिटल पर उपलब्ध है.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार