पाक में तूफ़ान से भारी तबाही, 14 की मौत

इमेज कॉपीरइट Other

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद सहित पंजाब और ख़ैबर पख्तूनख्वा के विभिन्न क्षेत्रों में तूफ़ान ने भारी तबाही मचाई है.

तूफ़ान के कारण इमारतें और पेड़ गिरने से कम से कम 14 लोग मारे गए और 149 लोग घायल हो गए हैं.

इस्लामाबाद और रावलपिंडी में पेड़ों के सड़कों और वाहनों पर गिर जाने से कम से कम 19 लोग घायल हुए जबकि इस्लामाबाद की एक कच्ची बस्ती में मकान गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई है.

इस्लामाबाद पुलिस ने बताया कि मरने वालों में एक महिला और तीन बच्चे शामिल हैं.

रावलपिंडी पुलिस ने बीबीसी संवाददाता शहजाद मलिक को बताया कि ढ़ोक हस्सू क्षेत्र में इमारतें गिरने और करंट लगने से पांच लोगों की मौत हो गई है. जबकि शहर में 130 के क़रीब लोग घायल हुए हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

तेज आंधी के कारण इस्लामाबाद के सेक्टर आई इलेवन में स्थित सब्जी मंडी में आग लग गई. बाद में आग पर काबू पा लिया गया.

आग और तेज़ हवाओं के कारण बिजली की तारें गिरने लगी. पेड़ और बिजली के खंभे सड़क पर गिरने से सड़कें बंद हो गईं और यातायात प्रभावित हुआ.

मौसम विभाग ने बताया कि रावलपिंडी में 148 किलोमीटर की गति से और इस्लामाबाद में 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी आई थी.

इमेज कॉपीरइट Other

रावलपिंडी और इस्लामाबाद के बीच चलने वाली मेट्रो बस सेवा को भी कुछ देर के लिए बंद करना पड़ा.

इस्लामाबाद के अलावा ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह के कई शहरों में तूफ़ानी हवाओं के साथ बारिश हुई.

पेशावर के अधिकारियों ने बताया कि तूफ़ानी हवाओं के कारण एक मकान की छत गिर गई, जिसमें एक महिला और उनका छह महीने के बच्चे की मौत हो गई जबकि दो अन्य लोग घायल हो गए.

पी डी एम ए के प्रवक्ता के अनुसार ज़िला आपदा प्रबंधन इकाई पेशावर और नौशहरा को निर्देश जारी किया है कि प्रभावित लोगों तक जल्द से जल्द सहायता पहुंचाई जाए.

तूफान में हुए नुक़सान का आकलन लगाने के लिए कई टीमें भी गठित की गई हैं.

इमेज कॉपीरइट Other

उधर पीआईए के प्रवक्ता के अनुसार इस्लामाबाद में मौसम की ख़राबी के कारण हवाई यातायात पर भी असर पड़ा है. 'यहां आने वाली घरेलू और विदेशी उड़ानों की आवाजाही प्रभावित हुई है.'

उनका कहना था कि दुबई, लाहौर, कराची और अन्य शहरों से इस्लामाबाद आने वाली उड़ानों का रुख लाहौर एयरपोर्ट की ओर मोड़ दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार